top of page
  • Mohd Zubair Qadri

बदायूं में 3 दिन पहले गोली मारने वाला हत्यारा अब तक फरार अभी नहीं लगा पुलिस के हाथ


यूपी बदायूं। शहर में 3 दिन पहले चुनावी रंजिश में हत्या को अंजाम देकर फरार हुआ आरोपी तीसरे दिन मंगलवार को भी पुलिस के हाथ नहीं लग पाया है। बताया जा रहा है कि वह जिले की सरहद लांघ गया है। उसके संभावित ठिकानों पर आसपास के जिलों में भी पुलिस ने छापेमारी की, लेकिन वह हाथ नहीं लगा। हालांकि उसके करीबियों से अभी भी पुलिस पूछताछ कर रही है।


चुनावी रंजिश में की गई थी हत्या


बता दें, सदर कोतवाली क्षेत्र में बीते शनिवार रात शारिक नाम के युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वजह महज इतनी थी कि शारिक का कहना था कि चुनाव के बाद भाजपा की सरकार बनेगी, जबकि खालिद सपा समर्थक था और समाजवादी की सरकार बनने का दावा कर रहा था। इसी बीच दोनों के बीच विवाद गहराया और खालिद ने शारिक की गोली मारकर हत्या कर दी।


शारिक ने किया था प्रेम विवाह

रमजानपुर से आने के बाद शारिक एक धर्मस्थल परिसर में होटल चलाता था। वहीं शुमाइला का आना जाना था। इससे दोनों एक-दूसरे को चाहने लगे। फिर दोनों ने परिवारवालों की मर्जी से शादी कर ली। शारिक के एक बेटी और दो बेटे हैं। कुछ साल पहले एक बेटे की नाले में डूबकर मौत हो गई थी।


परिजनों व करीबियों से हुई पूछताछ


परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा तो लिख लिया, लेकिन उसी रात खालिद बदायूं की सरहद लांघ गया, ताकि पुलिस से बचा रहे। पुलिस ने आरोपी के परिजनों को हिरासत में लेकर उसके रिश्तेदारों को सूची बद्ध कर लिया। उन जगहों पर भी दबिश दी गई, जहां वह अपने जान-पहचान के लोगों के यहां आसरा ले सकता था, लेकिन कहीं भी उसका पता नहीं लग सका है।


हत्यारोपी खालिद की तलाश में तीन टीमें गठित

शनिवार रात से फरार हत्यारोपी खालिद सिद्दीकी अब तक गिरफ्तार नहीं हो सका है। पुलिस उसे तलाश कर रही है। उसकी गिरफ्तारी को कोतवाली से दो टीमें लगाई गई हैं। उनके अलावा एसओजी और सर्विलांस टीम भी काम कर रही है। कई जगह दबिश दी गई है लेकिन अब तक उसका कुछ पता नहीं चला है। सदर कोतवाल डीएस धामा ने बताया, खालिद की तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई हैं। कोशिश है कि जल्द उसे पकड़ा जाए।

bottom of page