• Nationbuzz News Editor

डीएम ने हाॅटस्पाॅट क्षेत्र का किया निरीक्षण, व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली और कहा, घरों में रहें


बदायूं। जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त ने नगर मजिस्ट्रेट एवं सीओ के साथ 6 सड़का पर हाॅटस्पाॅट क्षेत्र का निरीक्षण किया। उन्होंने कोतवाल ओमकार सिंह से व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। लोगों से अपील की कि कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव के लिए घरों में अधिक समय बिताएं। हाॅटस्पाॅट क्षेत्रों में किसी प्रकार की गतिविधि नहीं होगी। ज़रूरत की वस्तुएं होम डिलीवरी होती रहेंगी। निर्देशों का उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। फिजीकल डिस्टेंसिंग का पालन करें। कोरोना को कतई हल्के में न लें। जरा सी लापरवाही जीवन के लिए घातक बन सकती है। अपना और अपने परिवार के लिए बताए गए इन नियमों का पूर्णतया पालन करें। फिजीकल डिस्टेंस का पालन खुद भी करें और दूसरों को भी कराएं, तभी इस महामारी से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए घर ही रहना एवं फिजीकल डिस्टेंसिंग का पालन करना ही प्रभावी उपाय है। खांसते, छींकते समय मुंह को रूमाल व टिश्यू से ढकें। हाथों को समय-समय पर साबुन से धोते रहे या सेनीटाइजर से साफ करें। मुंह ढकने के लिए मास्क, गमछा, तौलिया, दुपट्टा या रुमाल का प्रयोग करें।


जो व्यक्ति संक्रमित व्यक्तियों के सम्पर्क में आए हैं, स्वास्थ्य विभाग को इसकी सूचना देकर स्वंय को 21 दिन के लिए क्वारंटाइन कर लें। परिवार के लोगों के साथ भी सावधानी बरतते हुए सामाजिक दूरी का पालन करते हुए उनसे बात करें। इन 21 दिनों में विशेष प्रकार की सर्तकता बरती जाए। बुखार, छींक, सांस लेने में दिक्कत सहित कोई समस्या हो तो कंट्रोल रूम नम्बर 05832-266114 पर अवश्य अवगत कराएं, जिससे वक्त रहते उपचार प्रारंभ किया जा सके। मास्क लगाकर रहें, बात करते समय उचित दूरी बनाए रखें, बार-बार हाथ धोते रहें। बेवजह मुंह, नाक, आंख न छूंए, नियमों का स्वयं भी पालन करें और दूसरों को भी इसका पालन करने के लिए कहें। कोरोना जिस प्रकार पूरी दुनिया में तेजी से फैल रहा है, इससे बचने का फिलहाल बताए गए नियम ही मात्र विकल्प है। इसलिए बहुत सर्तक रहने की जरूरत है अपने लिए भी और अपनों के लिए भी। बुर्जुगों एवं बच्चों का विशेष ध्यान रखे। सभी लोग घर में रहें, सुरक्षित रहें, स्वस्थ्य रहें।