• Nationbuzz News Editor

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की शिक्षकों को नसीहत, बोले- जनगणना के काम से न भागें


यूपी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को शिक्षकों को जनगणना के काम से न भागने की सलाह देते हुए कहा कि जब आप जनगणना करेंगे तो जानेंगे कि आपके स्कूल में आने वाला बच्चा किन परिस्थितयों से आता है। उसके घर की दिक्कतें क्या हैं? तभी आप असली ज्ञान दे पाएंगे।


आत्ममंथन की जरूरत

मुख्यमंत्री बुधवार को लखनऊ के डॉ राम मनोहर लोहिया विवि में बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी व सीएसआर (कारपोरेट सोशल रिस्पांसबिलिटी) कॉन्क्लेव में शिक्षकों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री शिक्षकों के बीच गए तो खुद एक आदर्श शिक्षक के रूप में नजर आए। उन्होंने कहा, चुनौतियों का सामना करने की शिक्षा सिर्फ अध्यापक ही दे सकता है।


यदि आज विश्वविद्यालयों में युवा अराजक हो रहा है, देश के टुकड़े करने की बात करता है तो उसकी शिक्षा पर प्रश्न खड़ा होता है। शिक्षक के काम पर सवाल खड़े होते हैं। उन शिक्षकों को सोचना चाहिए जिन्होंने इन्हें प्राइमरी और माध्यमिक स्तर पर शिक्षा देकर विश्वविद्यालय तक पहुंचाया। उन्हें आत्म मंथन की जरूरत है। उन्होंने कहा कि शिक्षक स्कूल जाएगा और अक्षर व अंकज्ञान करवाएगा तो बच्चा खुद ही पढ़ने लगेगा। शिक्षक को सिर्फ स्कूल तक सीमित नहीं होना चाहिए।


बदायूं में मई से प्रारंभ होगा जनगणना कार्य-मुख्य विकास अधिकारी निशा अनंत ने कहा कि मई से जनगणना का कार्य प्रारम्भ हो जाएगा। सभी लेखपाल उस कार्य में पूर्ण सहयोग करें। जनगणना प्रपत्र में शौचालय तक पहुँच के सम्बंध में जानकारी अंकित की जाएगी। इसीलिए जिन लोगों के पास शौचालय नहीं है, उनके प्रयोग हेतु सामान्य सामुदायिक शौचालय के अलावा अनुसूचित जाति के लिए अलग सामुदायिक शौचालय बनाया जाएगा।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube
© Copyright ® All rights reserved Nation Buzz 2017 - 2020