• nationbuzz3

अखिलेश यादव की विजय रथ यात्रा चुनावी शंखनाद, नोटबंदी में पैदा हुए खजांची ने दिखाई हरी झंडी


यूपी। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को कानपुर से विजय रथ यात्रा का शंखनाद किया। 190 किलोमीटर यानी 4 जिलों से गुजरने वाली इस यात्रा को नोटबंदी के दौरान बैंक की लाइन में जन्मे खजांची नाम के बच्चे ने हरी झंडी दिखाई। इस दौरान अखिलेश ने लखीमपुर हिंसा को लेकर यूपी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि लखीमपुर में जिस तरह से किसानों और कानून को कुचला गया है। ऐसे में अब लगता है कि संविधान को कुचलकर धज्जियां उड़ाने की तैयारी है।


कानपुर से विजय रथ यात्रा शुरू करने पर अखिलेश ने कहा कि यह जिला इसलिए भी जरूरी है, क्योंकि सपा ने लगातार यहां विकास किया। कानपुर एक औद्योगिक शहर है। मगर आज यहां के कारोबार ठप हैं। ये वो शहर है, जो न केवल रोजगार दे सकता है, बल्कि देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने का काम कर सकता है। यहां के कारखाने शुरू हों तो व्यापार बढ़ेगा और रोजगार के अवसर पैदा होंगे। उन्होंने दावा किया कि 2022 के चुनाव में सपा की ही सरकार बनेगी। दो दिन में 190 किलोमीटर की इस यात्रा में अखिलेश 4 जिलों में जाएंगे।


कौन है खजांची, जिसने दिखाई हरी झंडी

2 दिसंबर 2016 को कानपुर देहात की एक महिला ने बैंक की लाइन में एक बच्चे को जन्म दिया। इस बच्चे का नाम यूपी के तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने खजांची रखा था। अखिलेश हर साल उसका जन्मदिन भी मनाते हैं। इस साल भी लखनऊ में सपा के दफ्तर में खजांची का जन्मदिन मनाया जाएगा। कहा जा रहा है कि इसमें खुद अखिलेश यादव भी शामिल होंगे।