• nationbuzz3

रामपुर में अखिलेश ने निकाली साइकिल यात्रा, कहा- BJP के इशारे पर मुरादाबाद में किया गया हमला


यूपी। प्रदेश के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने साल भर से जेल में बंद सांसद आजम खां के समर्थन में रामपुर में साइकिल यात्रा निकाली। 11 किलोमीटर लंबी साइकिल यात्रा से पहले जनसभा को भी संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने गुरुवार को अपने उपर हुए हमले का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा सरकार के इशारे पर मुरादाबाद में उनके उपर हमला किया गया है।


जनसभा में पूर्व सीएम ने कहा क‍ि देश में पहले किसी सांसद पर इतने मुकदमे एक साथ दर्ज नहीं हुए, जितने आजम खां के खिलाफ हुए हैं। उन्हें इसलिए फंसाया गया है, क्योंकि उन्होंने बच्चों का भविष्य संवारने के लिए यूनिवर्सिटी की स्थापना कराई। लेकिन, अब इस सरकार के ज्यादा दिन नहीं बचे हैं।


भाजपा के जुल्मों का हिसाब लिया जाएगा


साइकिल यात्रा के दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा के जुल्मों का हिसाब लिया जाएगा। भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्रियों तक पर हमले हो रहे हैं और अब आमजन पर भाजपा सरकार हमला करना चाहती है। आने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ही यह फैसला हो जाएगा जनता किसे चाहती है। ,


जब जब साइकिल चलाई है तब तब बड़ा बदलाव आया


यूपी के पूर्व सीएम ने कहा कि हमने जब-जब साइकिल चलाई है तो बड़ा बदलाव आया है। 2011 में साइकिल चलाई थी, तब सूबे की सरकार बदल गई थी और अब साइकिल चला रहे हैं तो मौसम भी बदल गया है। यह सरकार भी बदल जाएगी।


जिलाध्यक्ष अखिलेश कुमार गंगवार ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ साइकिल यात्रा में केवल पार्टी के बड़े नेता और सांसद व विधायक रहे। वहीं दूसरी ओर साइक‍िल यात्रा को लेकर कार्यकर्ताओं में खासा जोश देखने को म‍िल रहा है। उन्‍होंने कल के ल‍िए पूरी तैयारी कर रखी है।


मुरादाबाद में बीजेपी ने करवाया हमला

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने मीडिया से बातचीत में कहा कि मुरादाबाद में हमारी सिक्योरिटी पर हमला हुआ और हमारे ऊपर हमला हुआ। हमारी लिफ्ट की लाइट बंद कर दी गई। हम पांच मिनट तक लिफ्ट में फंसे रहे। मुरादाबाद में जो पत्रकार उल्टा हमले का आरोप लगा रहे हैं, वो भाजपा सरकार के इशारे पर हमलावर हुए। इस बात की जांच होनी चाहिए कि लिफ्ट की लाइट क्यों बंद हुई।


उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में दुनिया में सबसे ज्यादा गिरावट भारत में आई है। यहां जो भी सरकार के खिलाफ बोलता है, उसे जेल भेज दिया जाता है। पश्चिम बंगाल में भी मुख्यमंत्री पर हमला हुआ। देश की सारी संस्थाएं उनके पीछे पड़ी हैं। चुनाव हराने के लिए हर हथकंडा अपना रही हैं, लेकिन जनता साथ है। बंगाल में फिर ममता बनर्जी की सरकार बनेगी।