• Nationbuzz News Editor

अनीस सिद्दीकी ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि देश उनकी कुर्बानी को हमेशा याद रखेंगे


बदायूं। अनीस सिद्दीकी ने कहा की , मैं दिल से उन शहीदों को श्रद्धांजलि देता हूं व नमन करता हूँ जिन्होंने 101 साल पहले जलियांवाला बाग हत्याकांड में अपनी जान गंवाई थी. मैं उनकी वीरता और परिवार वालों को नमन करता हूं. उम्मीद है कि देश के लोग उनकी कुर्बानी को हमेशा याद रखेंगे जो उन्होंने देश के लिए दिया था और कहा जलियावाला बाग हत्याकांड मानव इतिहास में सबसे निर्मम हत्याकांड है। जिसे आज एक सौ एक वर्ष पूरे हो गए हैं। यही हत्याकांड भारत की आजादी का कारण बना और तीस साल बाद देश आजाद हो गया। पंजाब प्रांत के अमृतसर में स्वर्ण मंदिर के पास जलियावाला बाग में 13 अप्रैल 1919 को बैशाखी को दिन में घटित हुआ। वहां शांतिपूर्ण तरीके से रौलेट एक्ट के विरोध में सभा चल रही थी। उस दिन अमृतसर में बैशाखी पर्व का मेला लगा हुआ था। सभा में पांच हजार से अधिक लोग थे। अंग्रेजी सरकार के जनरल डायर ने निर्दोष लोगों पर ताबड़तोड़ गोलियाँ चलवा दीं जिसमें 400 से अधिक व्यक्ति मरे और 2000 से अधिक घायल हुए। और कहा वो हुकुमत न रही ,जनरल डायर न रहा, इस लिए हमारे देश में कोरोना भी नहीं रहेगा हम जीतेंगे कोरोना हारेगा।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube