• nationbuzz3

ककोड़ा मेला में रौनक स्नान को जुटे लोग, पूजा पाठ और धार्मिक अनुष्ठानों का चलता रहा सिलसिला


यूपी बदायूं कादरचौक। रूहेलखंड के सुप्रसिद्ध मेला ककोड़ा में गंगा स्नान जारी रहा ब्रह्ममुहूर्त से स्नान शुरू होकर शाम तक अनवरत जारी रहा। अधिक श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान कर पुण्य लाभ कमाया। घाट पर सुरक्षा की लिहाज से जल पुलिस के जवान मोटर वोट लेकर तैनात रहे। कार्तिक पूर्णिमा पर मुख्य स्नान के दिन चंद्रग्रहण के चलते सुबह में सूतक लग गया था, जो शाम तक रहा। ऐसे में तमाम श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान नहीं किया था।


श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान शुरू कर दिया स्नान के बाद श्रद्धालुओं ने मां गंगा के लिये फल, फूल एवं मेवा मिष्ठान अर्पित कर पापों से छुटकारा एवं परिवार में सुख समृद्धि की कामना की। श्रद्धालुओं ने जरूरतमंद लोगों के लिये दान पुण्य भी दिल खोलकर किया। जगह-जगह भंडारे आयोजित कर आलू, पूड़ी एवं खिचड़ी का प्रसाद वितरित किया। मेला में रुकने के उद्देश्य से पहुंचे श्रद्धालु परिवार संग डेरा डाले हुए हैं। श्रद्धालु गंगा स्नान के बाद परिवार संग मौज मस्ती कर रहे हैं।


गंगा स्नान के बाद श्रद्धालुओं ने मेला में लगे बाजार में रौनक बढ़ाने का काम किया। श्रद्धालुओं ने मेला बाजार से जरूरत के सामान की खरीदारी की। मीना बाजार में महिलाओं ने श्रंगार का सामान खरीदा तो खिलौना बाजार से लोग बच्चों को खिलौने दिलवाते नजर आये।


ककोड़ा मेला में कपड़ों से लेकर रजाई, कंबल, बर्तन एवं काठ के सामान की दुकानें लगी हैं। यहां पर गंगा स्नान के बाद श्रद्धालुओं की खरीदारी को भीड़ उमड़ रही है। कंबल बाजार में लोगों ने तोल वाले कंबल खरीदे। इसके अलावा करतन वाली सस्ती रजाईयों की भी डिमांड खूब रही। मेला में सेल में 250 रुपये तक की रजाईयां खूब बिकी। इसके अलावा काठ के सामान में महिलाओं ने पटा, बेलन की खरीदारी की। ढोलक की भी खूब बिक्री हुयी। बच्चों के लिये छोटी एवं मझोली ढोलक की मांग ज्यादा रही। इस बार अमरोहा से पहुंचे ढोलक कारीगरों ने भी दुकानें लगायी थीं, अमरोहा की ढोलक पसंद भी की गयीं। रात्रि में श्रद्धालुओं ने मथुरा के कलाकारों द्वारा आयोजित लोक कार्यक्रमों का जमकर लुफ्त उठाया।