• nationbuzz3

बिजली चेकिंग से पहले जांच अधिकारी को खिचानी होगी सेल्फी, दिखाना होगा आई कार्ड


यूपी। प्रदेश में बिजली चेकिंग के दौरान उपभोक्ताओं और टीम के बीच होने वाले विवादों को खत्म करने के लिए नई व्यवस्था लागू कर दी गई है। अब चेकिंग के दौरान टीम को संबंधित उपभोक्ता के साथ सेल्फी, ग्रुप फोटोग्राफ कराने होंगे। चेकिंग टीम को आई कार्ड भी दिखाना होगा।


बिजली कनेक्शन, मीटर आदि की चेकिंग के दौरान बिजली निगम की टीम पर उपभोक्ताओं द्वारा वसूली, मनमानी, उत्पीड़न महिलाओं से छेड़खानी और मारपीट जैसे कई आरोप लगाए जाते हैं। कई बार मामला थाने तक पहुंच जाता है। इसलिए ऊर्जा मंत्री एके शर्मा के निर्देश पर बिजली निगम प्रबंधन ने इसे काफी गंभीरता से लिया है। कारपोरेशन प्रबंध निदेशक पंकज कुमार ने विस्तृत निर्देश जारी किए हैं जिसमें कहा गया है कि चेकिंग टीम सदस्य अपना परिचय पत्र लेकर चलेंगे मांगने पर संबंधित उपभोक्ता को दिखाएंगे। उपभोक्ताओं के साथ शालीनता के साथ बात करनी होगी।


प्रबंध निदेशक पंकज कुमार ने जारी एक पत्र में कहा है जानकारी में आया है विद्युत उपभोक्ताओं को विद्युत चेकिंग के नाम पर भ्रम में डालकर या डराकर अवांछनीय तत्वों द्वारा अनुचित लाभ लेने की शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। उपभोक्त हित संरक्षण करने व उन्हें किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी से बचाने को उपभोक्ताओं को सतर्क कर निगरानी बढ़ाई जानी जरूरी है।


टीम के सदस्यों की फोटो ले सकता है उपभोक्ता


चेकिंग करते समय यदि उपभोक्ता चेकिंग टीम साथ फोटो लेना चाहता है, तो टीम के सदस्य इनकार नहीं करेंगे। चेकिंग बाद मौके पर ही जांच आख्या निर्धारित प्रारूप में आरएमएस पोर्टल पर कारपोरेशन डिस्काम में निहित निर्देशानुसार अपलोड कर दिया जाए।


जांच में उपभोक्ता कार्यालय में ही बुलाया जाए


मीटर में गड़बड़ी मिलने, कनेक्शन चेकिंग उपरांत यदि और कोई जानकारी लेने के लिए उपभोक्ता के पक्ष को जानना जरूरी होगा। इसलिए उपभोक्ताओं को कार्यालय में बुलाया जाएगा। ऐसा न करने पर टीम के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सकती है। बिजली निगम के मुख्य अभियंता आरके शर्मा का कहना है कि नई व्यवस्था के तहत टीम को प्रबंध निदेशक के निर्देशों का कड़ाई से पालन करने के लिए कहा गया है।