• nationbuzz3

सावधान, जिले में कोरोना से मरने वालों का सिलसिला जारी 13 व बुखार से 9 सहित 21 की मौत


यूपी बदायूं। जिले में कोरोना से मरने वालों का सिलसिला जारी है। कोरोना पॉजीटिव हुये एआर कोआपरेटिव व बिसौली के बीडीओ राघवेंद्र सिंह सहित बदायूं राजकीय मेडिकल कालेज, बरेली व अलीगढ़ के निजी अस्पताल एवं घरों पर सहित जिले में 13 लोगों की कोरोना से मौत हो गयी है। मेडिकल कालेज में एक कर्मचारी की मौत के बाद परिजनों ने मेडिकल कालेज में हंगामा किया है। जिसके परिजनों को समझाकर शव दिये हैं, वहीं शवों का अंतिम संस्कार कराया।


शनिवार को बदायूं जिले के 13 लोगों की कोरोना से मौत हो गई। राजकीय मेडिकल कालेज में रिडार्यड शिक्षक, कर्मचारी सहित सात लोगों की मौत हो गई। शनिवार की सुबह में चार और दिन में तीन लोगों की मौत हो गयी। शनिवार की सुबह को मूसाझाग के गांव बीबीपुर निवासी योगेश पुत्र मदारी की मेडिकल कालेज में मौत हो गयी। वह मेडिकल कालेज में लिफ्ट कर्मचारी था उसकी मौत के बाद परिजनों ने शव लेने से पहले जमकर हंगामा किया है। परिजनों का कहना है कि उपचार में लापरवाही की गयी। अफसरों ने परिवार को समझाबुझाकर शव दिया है। इसके अलावा नवयुवक इंटर कालेज के भी रिटायर्ड शिक्षक सुशील गुप्ता की इलाज के दौरान मौत हो गई। इसके अलावा भी अन्य की कोरोना से मेडिकल कालेज में मौत हुई है। वहीं इधर दास डिग्री कालेज के प्राचार्य के भाई अनुज सक्सेना की कोरोना से मौत हो गई। वहीं शहर के मधुवन कालोनी निवासी शहर निवासी रिटायर्ड अर्थ संख्या अधिकारी के बेटे आकाश का बरेली में कोरोना से निधन हो गया।


दुकानदार की अलीगढ़ में मौत


सहसवान। कस्बा निवासी दुकानदार की कोरोना से अलीगढ़ के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। कस्बा के मोहल्ला नयागंज निवासी विमल 50 वर्ष कई दिन बीमार हुआ था उसको गंभीर हालत में अलीगढ़ के अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं कोरोना संक्रमित की सांस न आने से मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि पीड़ित को भरपूर ऑक्सीजन नहीं मिल पाई। वह कस्बा में प्रसिद्ध खस्ते की दुकान थी।


पहले पुत्र की अब पिता की हुयी कोरोना से मौत


कादरचौक के गांव कुड़ासहायपुर निवासी बुजुर्ग की मौत हो गयी। उनका बरेली के अस्पताल में इलाज चल रहा था जहां शनिवार को इलाज के दौरान मौत हो गयी। बतादें कि उनके बड़ा बेटा कुड़ा सहायपुर के पूर्व प्रधान हैं। छोटे बेटा का दस दिन पहले ही कोरोना से इलाज के दौरान बरेली के अस्पताल में मौत हुई है। पुत्र की मौत के बाद ही बुजुग कोरोना संक्रमित हुये थे जिसके बाद अब मौत हो गयी।


सिविल लाइंस क्षेत्र में दो की मौत


सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांव में दो की कोरोना से मौत हो गई। शनिवार को थाना क्षेत्र के गांव शिकरापुर निवासी उदयवीर सिंह 70 वर्ष की मौत हो गयी। परिजनों ने बताया कि पिछले दिनों कोरोना संक्रमित निकले थे। जिसके बाद घर ही क्वारंटीन किया था और अब मौत हो गई। इधर गांव भगवतीपुर निवासी सुजान सिंह की रविवार को मौत हो गई। वह राजकीय मेडिकल कालेज में भर्ती थे, परिजनों ने बताया कोरोना संक्रमित थे और मेडिकल कालेज में मौत हो गयी।


ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है, कुछ सिलेंडर आये थे उससे बेकअप छह सात घंटे का चल रहा है। मेडिकल कालेज में एक कर्मी सहित सात लोगों की मौत हुयी है। परिजन नोकझोंक कर रहे थे उनको समझा दिया गया है। कोरोना की गाइड लाइन के अनुसार परिजनों से अंतिम संस्कार कराने की चेतावनी देकर शव सौंप दिया है।


डॉ. सीपी सिंह, चिकित्सा अधीक्षक राजकीय मेडिकल कालेज बदायूं


वही शनिवार को जिले में एक बार फिर 155 लोग कोरोना संक्रमित निकले। जिनमें से ज्यादातर को होम क्वारंटीन किया गया है। इधर 326 लोग कोरोना को हरा कर घर वापस हुये।