• nationbuzz3

जिले में दो महिला सहित चार को निकला डेंगू, बच्चे और पुरुष भी डेंगू की चपेट में आने लगे


यूपी बदायूं। डेंगू लगातार जिले में फैलता जा रहा है। महिला, बच्चे और पुरुष भी डेंगू की चपेट में आने लगे हैं। वायरल बुखार के बीच मलेरिया भी निकल रहा है। एक बार फिर से चार डेंगू के मरीज निकल आये हैं। जिससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। टीमों ने केस बढ़ते देख कैंप लगाने शुरू करा दिये हैं। इधर जिला अस्पताल व महिला अस्पताल की ओपीडी में मरीजों की लाइन लगी रही।


बुधवार को डेंगू और मलेरिया की टीमों सक्रिय रही हैं। जिले के मलेरिया प्रभावित ब्लाक सालारपुर, जगत, समरेर, दातागंज, म्याऊं में कैंप लगाकर लोगों की जांच की गई। मलेरिया विभाग की रिपोर्ट के अनुसार जिले में तीन पीवी मलेरिया के केस निकले हैं लेकिन फैल्सीपेरम के केस सामने नहीं आये हैं। मगर जिला पुरुष अस्पताल ने चार लोगों में डेंगू की पुष्टी कर दी है। इसमें बिल्सी और शहर के जालंधरी सराय में एक-एक व्यक्ति को डेंगू निकला है इसके अलावा दो अन्य महिलाओं को डेंगू निकला है। डेंगू की चार की पुष्टी होने के बाद टीमों को बीमारों के घर दौड़ना पड़ा है। बताया जा रहा है कि एक मरीज जिला पुरुष अस्पताल में ही भर्ती है।


जिले में डेंगू ने दस्तक दे दी है। डेंगू के लगातार मरीज बढ़ते जा रहे हैं इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की टीमें सक्रिय हो गई हैं। टीमों ने घर-घर जाकर डेंगू को लेकर लार्वा भी देखा है और परिवारों को जागरूक किया है। जिला संक्रामक रोग अधिकारी डॉ. अनिल शर्मा व एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉ. कौशल गुप्ता ने जाकर घरों के साथ-साथ जिला अस्पताल लैब का निरीक्षण किया है। यहां डेंगू के कार्य को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये हैं।


नहीं टूट रही ओपीडी की लाइन


जिला पुरुष व महिला अस्पताल में मरीजों की लाइन दोपहर तक नहीं टूट पा रही है। महिला अस्पताल में महिलाओं के साथ साथ बुखार, टाईफाइड, मलेरिया, निमानिया से प्रभावित बच्चे सबसे ज्यादा आ रहे हैं। इसमें शून्य से पांच साल तक के बच्चों की संख्या ज्यादा है। इधर जिला अस्पताल में डाक्टरों के कक्ष में न बैठने से मरीज परेशान रहते हैं। यहां बाल एवं शिशु रोग विशेषज्ञ ओपीडी की जगह सीएमएस के कक्ष में बैठे रहते हैं।


डेंगू के चार मरीज है जिला अस्पताल की एलाइजा की जांच में एनएस-01 पॉजिटिव निकले हैं। डेंगू पॉजीटिव मरीजों को उपचार दिया जा रहा है। डेंगू को लेकर लगातार प्रयास है मरीजों को ट्रेस करके उपचार दे रहे हैं। डेंगू को लेकर घर-घर जाकर भी अभियान चला रहे हैं।


डॉ. कौशल गुप्ता, एपिडेमियोलॉजिस्ट स्वास्थ्य विभाग


जिले में अभियान जारी है मलेरिया और हमारी टीमें लगी हैं, हो सकता है रविवार, शनिवार अवकाश की वजह से जांच कम की हों, कैंप न लगायें हों। हम सभी को निर्देश जारी करते हैं जांच कम नहीं होंगी और प्रभावित इलाकों में कैंप जरूर लगाये जायेंगे।

डॉ. विक्रम सिंह पुंडीर, सीएमओ