• nationbuzz3

बरेली में सीएम योगी सख्त निर्देश कोरोना काल में मरीजों के इलाज में कोताही नहीं होगी बर्दाश्त


यूपी। रुहेलखंड में कोरोना संक्रमितों के आंकड़ा बढ़ने से टेंशन में आई मशीनरी और पब्लिक को सीएम के दौरे ने ऑक्सीजन की डोज का काम किया। मुख्यमंत्री योगी ने बरेली मंडल के चारों जिलों की सीएचसी और पीएचसी पर जनप्रतिनिधि-सरकारी विभाग और सक्षम संस्थाओं के जरिए ऑक्सीजन प्लांट लगवाने की ऐलान किया। तीसरी लहर से पहले हर हाल में सीएचसी-पीएचसी पर ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था करने का टारगेट दिया। मुख्यमंत्री ने कोरोना के खात्मे के लिए सरकार की योजना को सही बताया। संक्रमितों का आंकड़ा कम होने को अच्छा संकेत बताया ।


शनिवार को कोरोना की रोकथाम के इंतजाम की मंडलीय समीक्षा करने सीएम योगी ने बरेली का दौरा किया। मुरादाबाद से हेलीकाप्टर के जरिए सीएम बरेली पहुंचे। शाम तीन बजे पुलिस लाइन से सीधे कलक्ट्रेट पहुंचे। इंटीग्रेटिड कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण के बाद जनप्रतिनिधि और अधिकारियों के साथ कलक्ट्रेट सभागार में मंडलीय समीक्षा मीटिंग की। करीब दो घंटे मैराथन मीटिंग चली। दूसरे जिलों के अधिकारी वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए। सीएम ने अधिकारी और जनप्रतिनिधियों को कोरोना की रोकथाम के लिए बेहतर तालमेल से काम करने की सलाह दी।


तीसरी लहर से पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर ऑक्सीजन बेड की कमी को पूरा कराने का टारगेट दिया। जनप्रतिनिधियों को अपनी निधि से सीएचसी-पीएचसी पर ऑक्सीजन प्लांट लगाने का सुझाव दिया। इसके अलावा गन्ना विभाग और स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयोग भी ऑक्सीजन प्लांट लगाने में लेने को कहा। सीएम ने कोरोना मरीजों की संख्या में कमी आने का दावा किया। कहा, प्रदेश में एक मई से अब तक 65000 कोरोना के एक्टिव केस कम हुए हैं। रिकवरी रेट बढ़ा है। सीएम ने इस सकारात्मक बदलाव को बनाए रखने की अपील की। मीटिंग में केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार और वित्त मंत्री सुरेश खन्ना आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे। मीटिंग के बाद सीएम ने शहर से सटे मुडि़या अहमद नगर गांव का दौरा किया। ग्राम प्रधान और निगरानी समिति को प्रवासी कामगरों पर नजर रखने को कहा। ताकि उनकी जांच हो सके।


कांट्रेक्ट ट्रेसिंग पर ज्यादा फोकस करें

सीएम योगी ने कोरोना के खात्मे के लिए कांट्रेक्ट ट्रेसिंग पर जोर दिया। कहा, संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने वालों की जांच होनी चाहिए। उनको आइसोलेट किया जाए। जरूरत पड़ने पर भर्ती कराया जाए।


हर व्यक्ति को लग जाए टीका

मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों को वैक्सीनेशन अभियान को प्रभावी बनाने के निर्देश दिए। हर व्यक्ति के टीका लगने की व्यवस्था करने को कहा।