• nationbuzz3

अज़ीमुशान माह ए गुफरान मुकद्दस पवित्र रमजान महीने की 14 अप्रैल से शुरुआत


खबर देश। देश में रमज़ान का पवित्र मुकद्दस महीना 14 अप्रैल बुधवार से शुरू हो रहा है. 14 अप्रैल को चांद का दीदार करने के साथ ही मुकद्दस रमजान शुरू हो जाएगा. जानकारी के मुताबिक पहला रोजा 14 घंटा 8 मिनट की अवधि का होगा. ये सबसे छोटा रोजा बताया जा रहा है. वहीं आखिरी रोजा 14 घंटा 52 मिनट का होगा और सबसे बड़ा रोजा होगा. रमजान को सबसे पवित्र महीनों में से एक माना जाता है. इस दौरान मुस्लिम समुदाय सूर्योदय से सूर्यास्त तक रोज़ा रखते हैं और पवित्र कुरान से छंद पढ़ते हैं व अल्लाह को अपनी नमाज़ (सलात) पेश करते हैं और इफ्तार (या सूर्यास्त के बाद भोजन) के लिए एकत्र होते हैं।


माह ए रमजान क्या है


रमजान इस्लामी कैलेण्डर का नवां महीना है. इसे माह-ए- रमजान भी कहा जाता है. यह पवित्र महीना है जिसमें खुदा की इबादत और सब्र खूब गरीब मज़लूमों की मदद बढ़चढ़कर की जाती है. रमजान के महीने में रोजे (व्रत) रखने के साथ ही रात में तरावीह की नमाज़ पढना और क़ुरान तिलावत करना शामिल है. रमज़ान मुसलमानों के लिए सबसे पाक महीना होता है. समुदाय के सदस्य पूरे महीने रोज़ा रखते हैं और सूरज निकलने से लेकर डूबने तक कुछ नहीं खाते पीते हैं. साथ में महीने भर इबादत करते हैं और अपने गुनाहों की माफी मांगते हैं।


रमजान का महीना शुरू होने के साथ ही बाजारों में भी रौनक बढ़ गई है। खजूर, खान-पान की चीजें सहित अन्य सामग्री की खरीद-फरोख्त बढ़ गई है। खजूर रोजेदारों की सेहत का ख्याल रखेंगे। साथ ही हर चीज़ पर इसबार रेट बड़े हुए है 300 रुपये किलो के हिसाब से मिलने वाला खजूर बाजार में उपलब्ध है अजवा खजूर अन्य खजूर से महंगा है। 


मोहम्मद ज़ुबैर क़ादरी