• nationbuzz3

मदरसे में फर्जीवाड़े की शिकायत, जांच शुरू रिकवरी सहित मान्यता रद्द करने की होगी कार्यवाही


यूपी बदायूं। ककराला संवाद: मदरसों में छात्रवृति घोटाले और फर्जीवाड़े के मामले प्रकाश में आना कोई नयी बात नहीं है। एक बार फिर से जिले में संचालित मदरसों में घोटाले की बू उठी रही है। ऐसे ही आरोप में एक मदरसे की शिकायत अधिकारियों तक पहुंची है।


कादरचौक के गांव नूरपुर में मदरसा संचालित कर रहे ककराला निवासी मोहम्मद रागिव खां ने डीएम और जिला अल्पसंख्यक अधिकारी को पत्र भेजा है।


जिसमें बताया कि नगर के एक मदरसा प्रबंधक ने आधुनिकीकरण शिक्षक का लाभ लिया। इसके साथ ही नियम के विपरीत अपने भतीजे को शैक्षणिक अहर्ता न होते हुये भी आधुनिकीकरण शिक्षक बना दिया। वे जगत ब्लॉक के गांव झंडपुर में बैंक वीसी है। इसके साथ ही अलीगढ़ रहकर कोचिंग सेंटर चलाने वाले व्यक्ति को भी फर्जीवाड़ा कर शिक्षक बनवा दिया। अपने बेटे और बेटी को भी आवासीय दिखाकर आर्थिक लाभ दिया है। शिकायत पर जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी पहुंचे थे। प्रबंधक अभिलेख नहीं दिखा सके उन्होंने दो दिन का समय मांगा है।


शिक्षक का लाभ लेकर फर्जीवाड़े का मामला सिद्ध नहीं हुआ, क्योंकि उसने पहले ही प्रबंधक पद से इस्तीफा दे दिया था। दस्तावेज नहीं मिल सके। छात्रवृति मामले में जांच की जा रही है। दोष सिद्ध होने पर रिकवरी सहित मान्यता रद करने की प्रकिया करेंगे।


रूहैल आजम, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी