• Nationbuzz News Editor

बदायूं में कांग्रेस कमेटी ने जरूरतमंद असहाय लोगों को राशन वितरण किया गया


बदायूं। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी पूर्व महासचिव ओमकार सिंह एवम युवा कांग्रेस के नेतृत्व में निरन्तर सेवाभाव से 36वे दिन भी युवा कांग्रेस के केम्प कार्यालय पर जरूरतमंदों असहाय लोगो को राशन वितरण किया गया इस अवसर पर पूर्व प्रदेश महासचिव ओमकार सिंह के कहा कि देश मे कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में मदद के माध्यम से फंड जुटाने के लिए पीएम केयर्स फंड का गठन किया गया। जब से पीएम केयर फंड बना है, तब से इसे लेकर कई तरह के सवाल भी खड़े हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि आम लोगों कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में योगदान के तौर पर पैसे लिए जा रहे हैं और ऐसे में 'पीएम केयर्स कोष' का सरकारी ऑडिट होना चाहिए। उन्होंने उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में लोगों से पीएम केयर्स कोष में 100-100 रुपये का योगदान देने से जुड़े जिला अधिकारी के एक कथित आदेश का हवाला देते हुए यह भी कहा कि देश के कई पूंजीपतियों के 68000 रुपये का कर्ज बट्टे खाते में डालने का भी हिसाब होना चाहिए। जब जनता त्राहिमाम कर रही है, राशन, पानी, नकदी की किल्लत है, सरकारी महकमा सबसे 100-100 रुपये पीएम केयर्स कोष के लिए वसूल रहा है, तब हर नजरिए से उचित रहेगा कि पीएम केयर्स कोष का सरकारी ऑडिट भी हो।' युवा कांग्रेस अध्यक्ष शफ़ी अहमद ने गरीबों तक राशन नही पहुँच पा रहा जरूरतमंदों को भूखे मरने की नौबत आ खड़ी हुई मध्यम वर्ग बेबस है प्रवासी श्रमिक मजदूरों को अपने प्रदेश वापस लौटने के लिए टिकट के पैसे देने पड़ रहे है सरकार बताये की जब पिछले 40 दिनों से देश मे लॉक डाउन की स्थिति है तो प्रवासी श्रमिक मजदूरों के पास टिकट के पैसे कहा से आएंगे पीएम केअर फंड कहा इस्तेमाल हो रहा है किसी को कोई जानकारी नही उन्होंने कहा, 'देश से भाग चुके बैंक चोरों के 68,000 करोड़ माफ हुए उसका हिसाब होना चाहिए। संकट के समय जनता के सामने पारदर्शिता महत्वपूर्ण है। इसमें जनता और सरकार दोनों की भलाई है।