• nationbuzz3

निलंबित चौकी इंचार्ज और सिपाहियों की फरारी में विभागीय जांच शुरू नहीं लगा अभी तक कोई सुराग


यूपी बदायूं। अफीम तस्करों को छोड़ने के मामले में फरार चल रहे निलंबित चौकी इंचार्ज और दोनों सिपाहियों के खिलाफ विभागीय जांच शुरू हो गई है। हालांकि अब तक आरोपी पुलिस कर्मियों का कुछ पता नहीं चला है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि तीनों पुलिस कर्मी कहीं लंबे निकल गए हैं। पुलिस उन्हें लगातार तलाश कर रही है।


गत 22 मई को शेखूपुर चौकी इंचार्ज रहे एसआई आकाश कुमार, सिपाही अंकुश कसाना और निशांत मान के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप में थाना सिविल लाइंस में रिपोर्ट दर्ज हुई थी। दरअसल उन्होंने आंवला रोड से तीन अफीम तस्करों को पकड़ा था। उनके पास से आधा किलो अफीम भी बरामद हुई थी। उन्हें शेखूपुर पुलिस चौकी ले जाया गया। बाद में उन्हें 90 हजार रुपये लेकर छोड़ दिया। बरामद अफीम भी हड़प ली गई। दूसरे दिन जब ये मामला सुर्खियां बना तो एसएसपी ने इसकी जांच कराई इसमें तीनों पुलिसकर्मी दोषी पाए गए। इस पर उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप में मामला दर्ज किया गया। इसकी जांच सीओ उझानी गजेंद्र कुमार कर रहे हैं।


तीनों पुलिस कर्मी 22 मई से ही फरार चल रहे हैं। जिससे उनके बयान दर्ज नहीं हुए हैं। इसको लेकर एसएसपी के आदेश पर विभागीय जांच शुरू हो गई है। एसएसपी ने इस मामले में जल्द जांचकर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

अफीम तस्करों को छोड़ने के मामले में जांच चल रही है। इसमें हम विभागीय जांच भी करा रहे हैं। अभी आरोपी पुलिसकर्मियों का कुछ पता नहीं चला है। जल्द उन्हें तलाश कर अगली कार्रवाई की जाएगी।

संकल्प शर्मा, एसएसपी बदायूं