• nationbuzz3

बदायूं में एकता भाईचारा कायम रहे धर्म गुरुओं के साथ डीएम की बैठक


यूपी बदायूं। जिले में सौहार्द, प्रेम बनाये रखने के लिए धर्म गुरुओं के साथ पीस कमेटी की बैठक जिलाधिकारी दीपा रंजन की अध्यक्षता में आगामी शुक्रवार को होने वाली जूमें की नमाज को शांन्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने हेतु धर्म गुरुओं के साथ पीस कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। डीएम ने कहा कि बदायूं प्रिय जनपद शांति है। आगामी शुक्रवार को होने वाली जुमें की नमाज शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराएं। सोशल मीडिया पर गलत मैसेज फॉरवर्ड न किया जाए। जनपद में 30 जून तक धारा 144 लागू है। एक जगह अधिक भीड़ न करें। उन्होंने कहा कि नमाज के बाद सभी लोग सीधे अपने-अपने घरों को ही जाएं। सभी मस्जिदों में सीसीटीवी कैमरे सक्रिय रहे। शरारती तत्वों पर कड़ी निगरानी की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि कोई भी जुलूस, प्रदर्शन बिना अनुमति के न निकाला जाए। उन्होंने सभी जनपद वासियों से अपील की है कि जुमे की नमाज को शांतिपूर्वक ढंग से संपन्न कराएं। जनपद की गंगा जमुनी तहजीब को बरकरार रखें। जिला प्रशासन आपके साथ हैं कोई भी समस्या हो तो तत्काल प्रशासन को अवगत कराया जाए।


डीएम ने कहा कि सभी की नैतिक जिम्मेदारी है कि अपना कर्तव्य सही से निभाए। किसी प्रकार की समस्या होने पर सकारात्मक संवाद अवश्य करें जिससे संवैधानिक तरीके से उसका समाधान किया जा सके। जनपद में शांति व्यवस्था बनाये रखने में सहयोग करें और किसी भी प्रकार की समस्या होने पर तत्काल सूचित करे। उन्होने समस्त लोगो से कहा कि सोशल मीडिया पर कोई प्रतिबंधित और आपत्तिजनक मैसेज प्राप्त होता है तो प्रशासन को अवगत कराएं, पहचान सुनिश्चित करने के उपरांत सोशल मीडिया का दुरुपयोग करने वालों के खिलाफ कडी कार्रवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि कानून सभी के लिए एक समान है अगर किसी भी व्यक्ति के द्वारा किसी के धर्म को ठेस पहुंचायी जाती है तो संबंधित के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।


एसएसपी डॉ0 ओ0पी सिंह ने कहा कि पुलिस विभाग द्वारा सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वालो की निगरानी की जा रही है। किसी भी प्रकार का भ्रामक खबरों को फैलाने वालों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी। सोशल मीडिया पर भ्रामक खबरों के संबंध में अगर कोई ममला संज्ञान में आये तो तुरन्त प्रशासन से संवाद स्थापित करें। पुलिस प्रशासन द्वारा तत्काल समस्या का निदान किया जाएगा। कोई नई परंपरा न डालें और अफवाहों पर ध्यान न दें।