• Nationbuzz News Editor

डीएम ने छह सड़का पहुंचकर गांधी ग्राउंड रोड पर जल भराव की स्थिति को देखा और सफाई के लिए निर्देश दिए


हाॅटस्पाॅट की समय अवधि पूर्ण होने पर डीएम, एसएसपी ने हटवाई बल्लियाँ, खुलवाई दुकानें

बदायूं। कोरोना पाॅजीटिव निकलने पर 6 सड़का एवं लावेला चैक पर हाॅटस्पाॅट के कारण दुकानें बंद चल रही थी। बल्लियाँ लगाकर रास्ते बंद थे, अब इन क्षेत्रों के कोरोना पाॅजीटिव व्यक्तियों को 14 दिन पूर्ण हो चुके हैं, जिसके बाद डीएम एवं एसएसपी ने स्वयं इन क्षेत्रों का निरीक्षण कर यहां के दुकानदारों से दुकाने खोलने का आवहान किया, साथ ही निर्देश दिए कि वायरस से बचाव के लिए शारीरिक दूरी अपनाते हुए सारे अहतियाद कर लें, इससे संक्रमण खतरा न फैले, ग्राहकों के हाथों को सैनिटाइज़ करें एवं मास्क लगे ग्राहकों से बिक्री करें। इसके अलावा दोनो वरिष्ठ अधिकारियों ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जलभराव की स्थिति को भी देखा।


मंगलवार को जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी ने लावेला चैक पर निमार्ण कार्य, नाला सफाई का निरीक्षण कर कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने 6 सड़का पहुँचकर गांधी ग्राउंड रोड पर जल भराव की स्थिति को भी देखा। डीएम ने सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमार को निर्देश दिए कि जल भराव की स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए अवैध निर्माण करने वालों के साथ कोई रियायत न बरती जाए, जहां भी अवैध निर्माण है, उसे प्राथमिकता के तौर पर हटवाया जाए, साथ ही मजदूर बढ़ाकर सफाई व्यवस्थाओं में तेजी लाई जाए, जिससे जल भराव की समस्या से जल्द निजात पाई जा सके।


इसके अलावा लावेला चैक एवं 6 सड़का के दुकानदारों से दुकान खोलने को भी कहा है। फिजीकल डिस्टेंसिंग का पालन करें और ग्राहकों से भी कराएं। तभी इस महामारी से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए मास्क लगाना, समय-समय पर हाथो को सैनिटाइज़ करना तथा फिजीकल डिस्टेंसिंग का पालन करना ही प्रभावी उपाय है। खांसते, छींकते समय मुंह को रूमाल व टिश्यू से अवश्य ढकें। मुंह ढकने के लिए मास्क, गमछा, तौलिया, दुपट्टा या रुमाल का प्रयोग करें। बेवजह मुंह, नाक, आंख न छूंए, नियमों का स्वयं भी पालन करें और दूसरों को भी इसका पालन करने के लिए कहें। कोरोना जिस प्रकार पूरी दुनिया में तेजी से फैल रहा है, इससे बचने का फिलहाल बताए गए नियम ही मात्र विकल्प है। इसलिए बहुत सतर्क रहने की जरूरत है अपने लिए भी और अपनों के लिए भी। बुर्जुगों एवं बच्चों का विशेष ध्यान रखे, जागरुक ही बचाव है। उन्होंने पुलिस को भी निर्देश दिए कि बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराएं एवं भीड़ न लगने दें।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube