• Nationbuzz News Editor

डीएम ने अस्पताल पहुँचकर लिया व्यवस्थाओं का जायजा, कोरोना संक्रमितों से जाना हाल


बदायूं। वाईपास स्थित आसरा आवास को 500 बेड का कोविड केयर सेन्टर बनाया गया है। वर्तमान में यहां 120 बेड और लगभग 40 कोरोना पाॅजीटिव संक्रमित मरीज हैं। हालांकि 30 बेड का कोरोना एल-1 हाॅस्पीटल उझानी में बना हुआ है, मरीज अधिक आने पर अब नए मरीजों को आसरा आवास के कोविड केयर सेन्टर में रखा जा रहा है।


मंगलवार को जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी ने मुख्य विकास अधिकारी निशा अनन्त के साथ वाईपास स्थित आसरा आवास में बनाए गए 500 बेड के कोविड केयर सेन्टर का निरीक्षण किया। यहां पहुँचकर उन्होंने बालकाॅनी में खड़े मरीजों से उनका हालचाल जाना। डीएम ने उनसे पूछा कि उन्हें समय से भोजन, नाश्ता आदि मिल रहा है। मरीजों ने बताया कि वे ठीक हैं और उन्हें समय से सभी व्यवस्थाएं मुहैया हो रही है। डीएम ने निर्देश दिए कि ग्रीन और रेड ज़ोन के लिए अलग-अलग रास्ते बनाए जाएं। पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था के लिए हैलोजन लाइट लगाई जाए, साउंड सिस्टम लगाया जाए। सुरक्षा के दृष्टिगत पर्याप्त पुलिस बल तैनात रहे, इसके अलावा सीसीटीवी कैमरा भी लगाया जाए। मैन्यु के अनुसार अलग-अलग दिन विभिन्न प्रकार के भोजन परोसे जाए। नाश्ता-पानी समय से मिलता रहे, सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जाए। किसी भी मरीज को किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होना चाहिए। उन्होंने रसाई घर का भी जायजा लिया।


तत्पश्चात दोनों वरिष्ठ अधिकारियों ने उझानी स्थित कोविड-19 लेबल 1 हाॅस्पीटल पहुँचकर भी चिकित्सकों से व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने कोरोना पाॅजीटिव मरीजों से वीडियोकाॅलिंग कर व्यवस्थाओं के बारे में जाना। मरीजों ने डीएम को अवगत कराया कि सफाई व पानी की थोड़ी दिक्कत है, बाकी अन्य व्यवस्थाएं सब ठीक हैं। डीएम ने निर्देश दिए कि तत्काल व्यवस्थाओं को दुरुरूत किया जाए। किसी भी मरीज़ को किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होना चाहिए। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी सदर को पारस नाथ मौर्य, कोतवाल उझानी ओमकार सिंह मौजूद रहे।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube