• Nationbuzz News Editor

डॉ मौलाना यासीन अली उस्मानी ने प्रधान मंत्री को पत्र लिख कर आर्थिक मदद दिए जाने की मांग


बदायूं। इस्लामिक इंटेलेक्चुअल बोर्ड, इंडिया के नेशनल चेयरमैन, व समाजवादी पार्टी अल्पसंख्यक सभा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ मौलाना यासीन अली उस्मानी ने प्रधान मंत्री को पत्र लिख कर मज़दूरों और गरीबो को तुरंत नक़द आर्थिक मदद दिए जाने कि मांग कि. डॉ उस्मानी ने अपने पत्र मे कहा लॉक डाउन कि इस लम्बी अवधि मे गरीबो, मज़दूरों, छात्रों और माध्यम वर्ग के नागरिकों को जो मुसीबते झेलनी पढ़ रही हैं वो नाक़ाबिले बयान हैं.इन परेशानियों और मुसीबतों का इलाज केवल किसी प्रस्ताव और घोषणा पत्र से संभव नहीं है.उन्होंने कहा कि तुरंत प्रभावी क़दम उठाने और उपरोक्त लोगो को मदद पहोचाने कि आवशकता है। डॉ. उस्मानी ने माननीय प्रधानमंत्री से इस सम्बन्ध मे मांग पत्र भेज कर निम्नलिखित मांगे कि हैं। प्रवासी मज़दूर सड़को पर हैं और पैदल अपने घरों की ओर जा रहे हैं,सरकार के स्तर से तुरंत मौके पर फ्री वाहन उपलब्ध कराके घरों तक पहोचाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। 2.गरीबो, मज़दूरो और माध्यम वर्ग के हर एक परिवार को सरकार के स्तर से तुरंत दस हज़ार रु से पंद्रह हज़ार रु कि नक़द धनराशि सहायता के रूप मे उनके बैंक खातों के माध्यम से प्रदान की जाये. और जिनके खाते नहीं है उनको दूसरे विश्वासनिये तरीक़े से उपलब्ध करायी जाये। 3.हर एक परिवार को 1 क्विंटल अनाज उपलब्ध कराया जाये. 4.अगले दो माह के लिए फ्री गैस सिलिंडर की सुविधा उपलब्ध कराये जाये. 5.तमाम सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों मे माध्यम वर्ग के बच्चों की आधी फीस और गरीबों, मज़दूरो के बच्चों की मार्च से जून तक चार माह की फीस माफ़ी के आदेश पारित किये जाये। मे उम्मीद करता हूँ की उपरोक्त मांगो को अमली जामा पहनाने के लिए आप सहिर्दय तुरंत आदेश पारित करने का कष्ट करेंगे।