• nationbuzz3

बिना रजिस्ट्रेशन चल रहे ई-रिक्शा पकड़वा लिये गये चालकों ने घेरा राज्यमंत्री का आवास


यूपी बदायूं। बिना रजिस्ट्रेशन से शहर में चल रहे सभी ई-रिक्शा पकड़वा लिये गये हैं। जिनको डीएम ने पुलिस लाइन में खड़ा करवा दिया, साथ ही न चलने का आदेश दिया है। जिसको लेकर ई रिक्शा चालक सड़क पर आ गये। उन्होंने नगर विकास राज्यमंत्री का आवास घेर डाला और ई-रिक्शा दिलाने की चालकों ने मांग की है, वहीं सड़क पर जाम लगाने की कोशिश की तो अफसरों को दौड़ना पड़ा।


शुक्रवार की दोपहर को शहर के ई-रिक्शा चालकों ने डीएम कुमार प्रशांत को ज्ञापन दिया, जिसमें उनके पकड़े गये ई-रिक्शा को छोड़ने की मांग की। इसके बाद सभी ई-रिक्शा चालक नगर विकास राज्यमंत्री महेश चंद्र गुप्ता के आवास पर पहुंच गये। आवास पर जाकर ई-रिक्शा चालकों ने विरोध किया और नारेबाजी की। राज्यमंत्री का आवास घेरते हुये कचहरी-लालपुर मार्ग पर जाम लगाने की कोशिश की। जिसकी सूचना पर सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमार, सीओ सिटी विनय कुमार द्विवेदी, कोतवाल फोर्स के साथ पहुंच गये। यहां आननफानन उन्हें हटाया।


चालकों ने मांग की उनके ई-रिक्शा छोड़ दिये जायें। चालकों का कहना है कि वह रोज कमाने खाने वाले हैं उनके रिक्शा एआरटीओ ने पकड़वा कर खड़े करा दिये हैं। अब सभी लोग सड़क पर आ गये हैं रोजी रोटी का संकट है ऐसे में परिवार के लोग भूखे हैं। अफसरों ने तीन दिन का समय मांगा है।


अफसरों से कराई छापामारी


शहर में बिना रजिस्ट्रेशन के ई-रिक्शा बिक्री किये जा रहे है। डीएम ने पहले बड़ी संख्या में ई-रिक्शा पकड़वाये, वहीं शुक्रवार को सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमार, एसपी सिटी प्रवीन सिंह, सीओ सिटी विनय कुमार द्विवेदी को निर्देश दिये हैं। इसके बाद लालपुल पर छापामारी भी की गई है, लेकिन मौके पर अभी कोई बिना रजिस्ट्रेशन का रिक्शा नहीं मिला है। मगर छापामारी जारी रहेगी।


बिना रजिस्ट्रेशन के ई-रिक्शा हैं जिन्हें पकड़ा दिया गया है। ई-रिक्शा डीएम-एसएसपी के निर्णय के बाद ही छोड़े जायेंगे, रिक्शा चालक नगर विकास राज्यमंत्री को समस्या सुनाने गये थे, ज्यादा संख्या में थे, इसलिए रोड़ तक भीड़ हो गई थी। जाम नहीं लगा पाये थे। समय से पहुंचकर उन्हें हटाया गया।


अमित कुमार, सिटी मजिस्ट्रेट


ई-रिक्शा बिना नंबर और रजिस्ट्रेशन के हैं इसलिये पकड़वाया है। बिना रजिस्ट्रेशन रिक्शा बनाकर बेचने वाली दुकानों पर भी छापामारी करा रहे हैं। बिना रजिस्ट्रेशन के ई-रिक्शा कहीं हादसा या चोरी होने पर दिक्कत होती है। इनकी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को लेकर विचार चल रहा है।


कुमार प्रशांत, डीएम