• Nationbuzz News Editor

बदायूं में बहनों ने भाई की कलाई पर बांधी प्यार की डोर, तोहफा में दिए मास्क


बदायूं। सोमवार को रक्षाबंधन का पावन पर्व शुभ मुहूर्त से ही मनाया गया बहने भाइयों की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधकर माथे पर रोली चंदन का तिलक लगाया भाई भी उनका जीवन भर साथ निभाने का संकल्प लिया। दूर दराज से भाइयों के घर बहनों के आने-जाने का क्रम जारी रहा। पूर्व मंत्री आबिद रजा ने रक्षाबंधन के मौके पर राखी बंधवाई और रक्षा का वादा किया। इधर रोडवेज बसों में बहनों की भारी भीड़ दिखाई दी बदायूं डिपो द्वारा 106 बसों के माध्यम से दिल्ली, मुरादाबाद, फर्रूखाबाद, जलालाबाद, दातागंज रूट पर सफर की सुविधा मध्य रात्रि से सरकार के आदेशानुसार बहनों के लिए रोडवेज बसों में निशुल्क सफर कराया जा रहा है। राखियों और मिठाईयो की दुकानो पर भारी भीड़ रही। भीड़ को देखते हुए दुकानदारों ने मिठाई के दाम भी बढ़ा दिए हैं। गांव देहात की दुकानों पर तो मिठाईयां खत्म तक हो गई।


हाईवे पर पुलिस का पहरा


रक्षाबंधन के पर्व के चलते जिले भर में हाईवे पर पुलिस का कड़ा पहरा रहा। पुलिस कस्बे से लेकर बाहरी मार्गों पर प्रत्येक आने जाने वाले व्यक्ति पर निगरानी बनाए हुए रही। पुलिस द्वारा जो लोग मास्क नहीं लगाए हैं उनको मास्क लगाने के लिए प्रेरित किया गया।


जेल नहीं पहुंची बहनें


कोरोना वायरस संक्रमण के चलते इस बार जेल में बंद भाइयों तक बहने नहीं पहुंच पा पाई लेकिन जिन बहनों ने पूर्व में राखियां कारागार के अंदर पहुंचवा दी, उनके बंदी भाइयों ने कलाई पर राखी बांध रखी। बंदी के बाद भी तमाम बहनें अपने भाइयों से मिलने कारागार पहुंची, लेकिन उन्हें जिला कारागार के गेट से बैरंग लौटना पड़ा।


तोहफा में दिए मास्क


रक्षा सूत्र बांधने के बदले में भाई बहनों के लिए तमाम प्रकार के तोहफे दे रहे हैं,लेकिन शहर में कुछ भाईयों ने बहनों के लिए रक्षा सूत्र बांधने के बदले में सैनिटाइजर और मास्क भेंट किए हैं।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube