• nationbuzz3

महिला चिकित्सक की बेटी के अपहरण में अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व सदस्य पर FIR


यूपी बदायूं। अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व सदस्य भाजपा नेता ने महिला च‍िकित्‍सक की बेटी का अपहरण कर लिया। भाजपा नेता पर जबरन धर्मांतरण कराने का भी आरोप है। चिकित्‍सक की तहरीर पर पुलिस ने आरोपित भाजपा नेता, उनकी पत्‍नी और दो बेटों व एक अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी पंजीकृत की है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।


शहर से सटे गांव लोड़ा बहेड़ी निवासी महिला चिकित्सक सुमन गुप्ता की तहरीर के आधार पर भाजपा नेता और अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व सदस्य मनोज मसीह, उनकी पत्नी अनीता मसीह, बेटे यश, ऋषम व एक अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई है। इसमें अपहरण, जान से मारने का प्रयास, मारपीट, धमकी देने व धार्मिक भावनाओं का आहत पहुंचाने समेत अन्य धाराएं लगाई गईं हैं।


महिला चिकित्सक का आरोप है कि 17 सितंबर को मनोज मसीह अपने परिवार के साथ उनके घर आए और असलहा के बल पर उनकी बेटी को नकदी व जेवरात समेत अपहरण करके ले गए। बताया कि जब उन्होंने बेटी को बचाने का प्रयास किया तो आरोपितों ने जान से मारने की नियत से उन पर दो फायर कर दिए। उन्होंने बताया कि आरोपित उनकी बेटी का जबरन धर्मांतरण कराने का प्रयास कर रहे हैं।


जांच के बाद स्पष्ट होगी स्थिति

सिविल लाइंस इंस्पेक्टर राजेश कुमार सिंह ने बताया कि घटना का मुकदमा लिखा गया है। जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उनके आधार पर कार्रवाई होगी।


इधर, मनोज मसीह का कहना है कि युवती खुद उनके घर आई थी, उन्होंने उसके दादा-दादी को भी बुलाया लेकिन वह उनके साथ जाने को राजी नहीं हुई तो पुलिस को सूचना दी। बाकी जो भी आरोप लगाए जा रहे हैं वो राजनैतिक छवि धूमिल करने के लिहाज से लग रहे हैं आरोप निराधार हैं।