• Nationbuzz News Editor

लाॅकडाउन के बाद कोरोना से बचाव केे नियमों के साथ आयोजित हुआ सम्पूर्ण समाधान दिवस


बदायूं। शासन के निर्देशानुसार कोरोना काल में लाॅकडाउन के बाद अनलाॅक में पहली बार सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। कोविड-19 के नियमों का पालन कराते हुए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ वरिष्ठ अधिकारियों ने फरियादियों की शिकायतों को गंभीरतापूर्वक सुना एवं सम्बंधित अधिकारियों को जल्द से जल्द निस्तारण कराने के निर्देश दिए हैं।


मंगलवार को तहसील बिल्सी में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने जनशिकायतों को सुनकर उनको गुणवत्ता के आधार पर समयवद्ध निस्तारण कराने के निर्देश दिए हैं। ग्राम मेवली निवासी सालिग और धर्मी आदि ने शिकायत की है कि उसके खेत को जाने वाले चकमार्ग को गांव के ही दबंगों ने अपने खेत में मिला लिया है और ग्राम प्रधान द्वारा मनरेगा से कराए जा रहे कार्याें एवं सुलभ शौचालय के कार्य को भी दबंगई के बल पर रुकवा दिया गया है। डीएम ने बीडीओ को निर्देश दिए कि मामले की जांच गंभीरता से करें, दोषी पाए जाने पर कार्यवाही की जाए, मनरेगा के कार्य को प्राथमिकता के तौर पर पूर्ण कराएं।


ग्राम खेरी निवासी खुर्शीद बेगम ने शिकायत की है कि 25 साल से उनकी ज़मीन पर अन्य व्यक्तियों द्वारा कब्जा किया हुआ है। लेखपाल ने अभी तक भूमि का चिन्हांकन नहीं किया है। उन्होंने डीएम से कब्जा दिलाने की मांग की है। डीएम ने तहसीलदार को निर्देश दिए कि पैमाइश कर निशानदेही कराकर कब्जा दिलाने के निर्देश दिए हैं।

ग्राम नैथुआ के प्रधान छुन्नन मियां ने शिकायत की है कि सफाई कर्मचारी एक वर्ष से सफाई करने नहीं आ रहा है। जिसकी शिकायत पहले भी की जा चुकी है। सफाई कर्मचारी जब ग्राम प्रधान को मानदेय मांग पत्र पर मोहर लगवाने आया तो ग्राम प्रधान द्वारा मोहर लगाने से मना से करने पर सफाई कर्मचारी एससीएसटी एक्ट में फंसाकर प्रधान द्वारा रुपए की मांग करने के शिकायत की धमकी देकर गया है। डीएम ने डीपीआरओ को मामले की जांच कर कार्यवाही करने की मांग की है।


डीएम ने कहा है कि फरियादियो की शिकायतों को समस्त विभागीय अधिकारी गम्भीरता से लें और समय सीमा के अन्दर ही प्राप्त शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारण भी सुनिश्चित करे, ताकि फरियादियो को अपनी समस्याओं को लेकर इधर उधर भटकना न पड़े और शिकायतकर्ताओं को सम्पूर्ण समाधान दिवस का पूर्ण लाभ मिल सके। सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 96 शिकायतें प्राप्त हुईं हैं, जिनमें से 07 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया गया। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी निशा अनंत, उपजिलाधिकारी बिल्सी संजय सिंह तथा समस्त जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube