• nationbuzz3

यूपी में कोरोना प्रकोप से स्वास्थ्य सेवाएं बदहाल, मंत्री का पत्र बोले- लगाना पड़ सकता है लॉकडाउन


यूपी। प्रदेश में कोरोना का संक्रमण बेकाबू हो गया है और आंकड़े भयावह होते जा रहे हैं. इसी कड़ी में प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक ने एक चिट्ठी अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य को लिखी है. जिसमें उन्होंने कहा है कि अगर खराब व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया गया तो लखनऊ में लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है. यूपी सरकार में कानून मंत्री बृजेश पाठक ने लिखा है कि प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना की जांच बंद हो गई है, जो बेहद गलत है. शहर में इस वक्त 17 हजार कोविड जांच किटों की ज़रूरत है, लेकिन 10 हजार ही मिल रही हैं. मंत्री का कहना है कि लोग लगातार मदद के लिए फोन कर रहे हैं, लेकिन सुविधा नहीं हैं इसलिए मदद भी नहीं हो पा रही है।


इतना ही नहीं, मंत्री ने शिकायत की है कि स्वास्थ्य अधिकारी के दफ्तर में फोन नहीं उठाया जाता है, जिसके कारण दिक्कतें हो रही हैं. मंत्री ने अपनी चिट्ठी में अपील की है कि अस्पतालों में बेड्स की संख्या तुरंत बढ़ाई जाए, टेस्टिंग पर भी ज़ोर दिया जाए. बता दें कि सोमवार को बीते 24 घंटे में 13685 नए संक्रमित मिले हैं. प्रदेश में अब 81876 एक्टिव केस हैं जबकि 72 लोगों ने इसके कहर से दम तोड़ा है. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर अब 9224 हो गई है. उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों के 13685 नए मरीजों के साथ ही 3197 मरीज ठीक हुए हैं. प्रसाद ने बताया कि राज्य में इस वक्त एक्टिव मामलों की संख्या 81576 हो गई है।