• nationbuzz3

बर्फीली हवाओं से मौसम में बढ़ी ठिठुरन, आसमान बादलों से घिरने पर बूंदाबांदी के संकेत


यूपी बदायूं। बदायूं। शनिबार को मौसम का मिजाज को भी बिगड़ा रहा। आसमान में धुंध और कोहरा छाए रहने के कारण दोपहर तक धूप नहीं निकली। एक बजे के बाद धुंध और कोहरा छंटा तब कुछ समय के लिए धूप निकली। इससे लोगों को काफी राहत मिली। हालांकि, गुरुवार को न्यूनतम तापमान गिरकर तीन डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंच गया। इससे ठिठुरन के साथ गलन भी बढ़ गई। रात में स्थिति ज्यादा खराब हो गई।


मौसम विशेषज्ञों ने पहले से ही अनुमान जताया था कि दिसंबर के अंत और जनवरी के पहले सप्ताह में शीत लहर का सबसे ज्यादा प्रकोप रहेगा। दिसंबर खत्म होते-होते मौसम ने असर दिखाना भी शुरू कर दिया। गुरुवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई। बुधवार को अधिकतम तापमान 19 और न्यूनतम चार डिग्री सेल्सियस के आसपास था। बृहस्पतिवार को अधिकतम तापमान 17 और न्यूनतम तीन डिग्री सेल्सियस के आसपास दर्ज किया गया। दोपहर के समय सूरज निकलने के बाद कुछ समय के लिए राहत जरूर मिली, लेकिन शाम ढलने के साथ शीत लहर ने प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया। मौसम के जानकारों के अनुसार, अब करीब एक सप्ताह तक मौसम इसी तरह बना रहेगा। हालांकि, शनिवार को कुछ समय के लिए धूप खिलने का अनुमान है, लेकिन नया सप्ताह चालू होने के साथ आसमान बादलों से घिरने और बूंदाबांदी के संकेत हैं।


सीजन का सबसे ठंडा दिन

हेमवती नंदन बहुगुणा यूनिवर्सिटी गढ़वाल के मौसम विशेषज्ञ डॉ. आलोक सागर गौतम की मानें तो प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और मौसम विभाग के मुरादाबाद कार्यालय के आंकड़ों के अनुसार गुरुवार को इस सीजन का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया। इससे पहले 17 दिसंबर को न्यूनतम तापमान गिरकर चार डिग्री तक पहुंच गया था। उस दिन भी गुरुवार था। मौसम विशेषज्ञों ने इसे कोल्ड डे की संज्ञा दी थी। 17 दिसंबर को अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। बृहस्पतिवार को 17 दिसंबर के मुकाबले न्यूनतम तापमान में तो गिरावट दर्ज की गई, लेकिन अधिकतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा। रात में कोहरा और सर्द हवाओं ने गलन और बढ़ा दी।