• Nationbuzz News Editor

डीएम, एसएसपी के ज़िम्मेदारों को निर्देश बात करते समय उचित दूरी बनाए मुंह को मास्क या रुमाल से ढके


बदायूं। कोरोना महामारी से निपटने के लिए शनिवार को जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी ने जिला कारागार का निरीक्षण कर बंदियों को कोरोना वायरस के सम्बंध में जानकारी दी। दोनों वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि बात करते समय उचित दूरी बनाए रखें, मुंह को मास्क या रुमाल से ढके रहें सहित अन्य निर्देश दिए। दोनों वरिष्ठ अधिकारियों ने वंदियों से पूछा कि किसी प्रकार की कोई समस्या तो नहीं है, तो वंदियों ने बताया कि किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं है। इसके पश्चात उन्होंने सीसीटीवी कैमरे के व्यू भी चेक किए। तत्पश्चात दोनों वरिष्ठ अधिकारियों ने राजकीय मेडिकल काॅलेज के आइसोलेशन वार्ड का भी निरीक्षण किया। प्रवेश करते ही दोनों वरिष्ठ अधिकरियों को कूड़ा दिखाई दे गया। डीएम ने ईओ को साफ-सफाई कराने के निर्देश दिए हैं। कोरोना के संदिग्ध व्यक्तियों को आने-जाने की व्यवस्था अलग की जाए। यहां आइसोलेशन वार्ड में दो वेंटीलेटर लगाए गए हैं, इसके लिए चिकित्सकों को प्रशिक्षण दिया जाए तथा सेनिटाइज़ होता रहे। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 यशपाल सिंह, राजकीय मेडीकल काॅलेज के प्रधानाचार्य आर0पी0 सिंह एवं एसीएमओ डाॅ0 अनिल शर्मा सहित अन्य चिकित्सक भी मौजूद रहे। ---- मुख्यमंत्री कोरोना राहत कोष को दिए दो लाख रुपए जिला गन्ना अधिकारी रामकिशन एवं यदु शुगर मिल लिमिटेड बिसौली के महाप्रबंधक मानव संसाधन बीएस सेहरावत एवं अतिरिक्त गन्ना प्रबंधक अवनीत यादव के साथ जिला गन्ना अधिकारी की उपस्थिति में मुख्यमंत्री कोरोना राहत कोष (कोविड-19) के लिए दो लाख रुपये का चेक जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त को सौंपा है। यह राशि मिल के मालिकान व कर्मचारियों द्वारा सहायता राशि दी गई है। जिला गन्ना अधिकारी ने बताया कि इसके अतिरिक्त मिल द्वारा मिल परिसर एवं आस-पास के ग्रामो में कोरोना की रोकथाम के उपायों हेतु सहयोग किया जा रहा है। ---- 06 एवं 10 अप्रैल का अवकाश निरस्त वरिष्ठ कोषाधिकारी वाईपी सिंह ने अवगत कराया कि 06 अप्रैल महावीर एवं 10 अप्रैल को गुड फ्राईडे का सर्वजनिक अवकाश कोषागार एवं समस्त बैंक शाखाओं का निरस्त कर दिया गया है। कोषागार बदायूँ के साथ-साथ जनपद में समस्त बैंक शाखाएं 06 एवं 10 अप्रैल को सामान्य कार्यदिवसों की भांति खुली रहेंगी।