• nationbuzz3

घटनाक्रम का खुलासा बेटे ने की थी बूढ़ी मां की हत्या: दूसरों पर लगाया था आरोप भेजा जेल


बदायूं। थाना फैजगंज बेहटा इलाके के कनुआ खेड़ा गांव में वृद्धा की हत्या का पुलिस ने गुरुवार को वर्कआउट कर दिया है। वृद्धा के कत्ल को किसी और ने नहीं बल्कि उसके सगे बेटे ने अंजाम दिया था। आरोपी को पकड़कर पूछताछ की गई तो उसका तर्क था कि सजा काट रहे भाइयों को जेल से रिहा कराने के इरादे से वृद्धा की हत्या कर डाली। पुलिस ने आरोपी का चालन करके उसे जेल भेजा है।


कनुआ खेड़ा गांव में रहने वाली जावित्री देवी नाम की वृद्धा की हत्या सिर पर धारदार हथियार के प्रहार से 30 अक्टूबर को कर दी गई थी। परिजनों ने इस मामले में गांव के ही रामबहादुर समेत उसके बेटे अजय और भाई नेत्रपाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने आनन-फानन में आरोपियों को हिरासत में ले लिया। हालांकि उनसे थाने में पूछताछ की जाती रही। क्योंकि पुलिस को शक था कि घटना किसी और ने की है।


फिर यह खुला मामला


हत्याकांड की बारीकी से जांच हुई तो सामने आया कि वृद्धा की हत्या उसके बेटे सत्यवीर ने की है। सत्यवीर मुरादाबाद में रहकर नौकरी करता है। पुलिस ने सत्यवीर को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने बताया कि उसके भाई आरोपी पक्ष की युवती को जिंदा जलाने के मामले में सजा पा चुके हैं और बरेली सेंट्रल जेल में निरुद्ध हैं। जब मैं उनसे मुलाकात करने जाता था तो भाई उसे कड़ी पैरवी करने और जल्द जेल के पिंजरे से छुड़ाने की कहते थे। इसी कारण वृद्ध मां की हत्या कर इस मामले में विरोधियों को फंसाने के इरादे से वारदात कर डाली।


आरोपी गया जेल, करेंगे कड़ी पैरवी


एसपी देहात सिद्धार्थ वर्मा ने बताया, " घटनाक्रम का सही खुलासा हुआ है और आरोपी को जेल भेजा जा चुका है। आरोपी के खिलाफ अदालत में कड़ी पैरवी करेंगे ताकि वह भी सजा का पात्र बने।