लॉकडाउन के दौरान प्रसव पीड़ा से कराह रही एक महिला को कोतवाल ओमकार सिंह ने अस्पताल पहुंचाकर बचाई जान


बदायूं। सदर कोतवाली पुलिस बनी मसीहा, प्रसव पीड़ा से कराह रही एक महिला के लिए खाकी बनी सहारा, समय रहते अस्पताल पहुंचाकर उसका जीवन बचा लिया है। जिससे पूरे जिले पुलिस की वाह वाह हो रही है। सदर कोतवाली पुलिस मरजीना पत्नी आरिफ अल्वी निवासी नाहर खां सराय के लिए मददगार बनकर साबित हुई। पुलिस ने दर्द से कराहती मरजीना को समय रहते अस्पताल पहुंचाकर उसका जीवन बचा लिया। हुआ यूं मरजीना प्रसव पीड़ा से कराहती हुई रोड पर गिर गई। इसी दौरान ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मी भूपेश ने महिला को तड़पते हुए देख लिया। सिपाही ने पहले तो मोहल्ले की महिलाओं को बुलाकार प्रसूता को संभलवाया, फिर कोतवाल ओमकार सिंह को पूरे वाक्या से अवगत कराया। कोतवाल भी बिना देर किए एंबुलेंस लेकर मौके पर पहुंच गए और प्रसूता को आननफानन में अस्पताल ले जाकर भर्ती करा दिया। प्रसूता ने अस्पताल में पहुंच ने के कुछ देर बाद ही नन्हीं परी को जन्म दिया है। मां और बेटी दोनों स्वस्थ हैं। पूरे जिले में कोतवाली पुलिस द्वारा किए गए इस कार्य की जमकर सराहना हो रही है।