• nationbuzz3

शहर की सफाई व्यवस्था का जिम्मेदार संबंधित वार्ड सभासद को बना दिया गया है


बदायूं। शहर में एक बार फिर से सफाई प्लान बदला गया है। अबकी बार तैयार प्लान में शहर की सफाई व्यवस्था का जिम्मेदार संबंधित वार्ड सभासद को बना दिया है। सफाई कर्मचारियों के नाम नंबर सहित सूची दी जा रही है। सफाई कर्मियों की वार्डबार सभासद हाजिरी लगायेंगे। जिससे यह पता चल सके कि किस वार्ड में सफाई हुयी, या नहीं।


मंगलवार को शहर सिटी मजिस्ट्रेट/ ईओ अमित कुमार ने सफाई व्यवस्था में नया प्लान लागू किया। जिसमें शहर की सफाई व्यवस्था के लिए 29 वार्डों को 18 जोन में बांटा है। हर जोन और वार्ड के मिलान के अनुसार संबंधित सभासद को सूची आदेश जारी किया। जिसमें सफाई कर्मचारियों के मोबाइल नंबर और नाम सहित सूची जारी कर दी है। हर वार्ड के सभासदों को 15 से 20 कर्मचारी दे दिये हैं। सभासदों से कहा कि रोजाना निश्चित समय के अुनसार सुबह और शाम को साफ-सफाई करायें। रोजाना की संस्सुति रिपोर्ट भेजें कि वे वे साफ-सफाई से संतुष्ट कि नहीं। कितने कर्मचारियों ने काम किया। जितने कर्मचारी गायब रहेंगे उनका वेतन कटेगा और विभागीय कार्रवाई की जायेगी।


सभासदों के सिर पर टोपी


शहर की सफाई व्यवस्था बदलाव के बाद कई सभासद खुश हैं तो कई अचरज में। कहा, नगरीय चुनाव करीब में हैं। ऐसे में सफाई की कमान सभासदों के ऊपर डालने और सफाई न होने पर लोगों की नाराजगी उनके प्रति होगी। ऐसे में पालिका अफसरों ने अपनी बला सभासदों के सिर पर डाल दी। अब


शहर की सफाई व्यवस्था बेहतर करने के लिए नया प्लान लागू किया जा रहा है। जब तक सभासद संतुष्टी की संस्तुति नहीं करेंगे तब तक सफाई कर्मचारी का वेतन नहीं निकलेगा। हर सभासद को नाम नंबर सहित सफाई कर्मियों की सूची उपलब्ध करा रहे हैं। इससे सभासद को पता रहे कि कितने सफाई कर्मी आते हैं और कितने गायब रहते। वार्ड में सफाई की गयी या नहीं।

अमित कुमार, सिटी मजिस्ट्रेट/ ईओ