• nationbuzz3

कलक्ट्रेट में सांसद और सपा जिलाध्यक्ष को घुसने से रोका, भाजपा जिलाध्यक्ष से तकरार


यूपी बदायूं। नामांकन के दौरान अधिकारियों और सुरक्षा कर्मियों ने मंगलवार को सांसद डॉ. संघमित्रा मौर्य को नामांकन के लिए बनाए गए मुख्य गेट से कलक्ट्रेट में प्रवेश करने से रोक दिया। सपा जिलाध्यक्ष प्रेमपाल सिंह यादव को भी प्रवेश नहीं करने दिया गया। सुरक्षा कर्मियों ने भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव गुप्ता को रोका तो कुछ तकरार भी हो गई। हालांकि, बाद में मामला सुलझ गया।


कोरोना संक्रमण के खतरे के मद्देनजर निर्वाचन आयोग ने नामांकन के दौरान भी कड़े नियम लागू किए हैं। नामांकन कक्ष में प्रत्याशी और उसके साथ दो प्रस्तावकों को ही जाने की अनुमति है। मंगलवार को पहले दिन सबसे ज्यादा 10 प्रत्याशी नामांकन कराने पहुंचे। केंद्रीय राज्यमंत्री बीएल वर्मा, सांसद संघमित्रा मौर्य भी भाजपा प्रत्याशियों के साथ पहुंचे थे। अन्य दलों के बड़े नेता भी कलक्ट्रेट परिसर के आसपास जमा थे। ऐसे में यहां सुरक्षा बंदोबस्त भी सख्त थे। भाजपा प्रत्याशियों के साथ सांसद डॉ. संघमित्रा मौर्य, भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव गुप्ता भी कलक्ट्रेट में प्रवेश की कोशिश करने लगे। इनको अंदर घुसने से रोक दिया गया। पुलिस के अनुरोध पर सांसद दूसरे गेट से कलक्ट्रेट में घुसीं। इस दौरान राजीव गुप्ता से सुरक्षा कर्मियों की मामूली तकरार भी हुई। हालांकि बाद में राजीव गुप्ता को इसी गेट से अंदर जाने दिया गया।


बिसौली से सपा प्रत्याशी आशुतोर्ष मौर्य के साथ आए सपा जिलाध्यक्ष प्रेमपाल सिंह यादव को भी अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया। प्रेमपाल दूसरे गेट से भी अंदर नहीं गए और बाहर ही प्रत्याशी का इंतजार करते रहे।