• Nationbuzz News Editor

प्रधान के घर रुका था कोरोना संक्रमित व्यक्ति, जानकारी छुपाने पर अब होगी एनएसए की कार्यवाही


बदायूं। विकासखण्ड दहगवां के गांव भवानीपुर खल्ली के एक व्यक्ति की रिपोर्ट कोरोना पाॅजीटिव आने पर इलाज के लिए उसे बरेली भेज दिया गया है। भवानीपुर खल्ली पूर्व प्रधान रईस अहमद एवं वर्तमान प्रधान नसरीन तथा भवानीपुर खैरू की ग्राम प्रधान गुलनाज़ के घर सहित अन्य गांवों में संक्रमित व्यक्ति के ठहरने की जानकारी प्रधान द्वारा छुपाई जाने पर डीएम ने इनकी पाॅवर सीज़ कर एनएसए लगाई जाए साथ ही उन्होंने डीपीआरओ डाॅ0 सरनजीत कौर को निर्देश दिए कि उक्त प्रधान भविष्य में चुनाव न लड़ने की कार्यवाही अमल में लाई जाए। जिले में कोरोना पाॅजीटिव का दूसरा मामला से पूरे प्रशासन में हड़कम्प मच गया है। शनिवार को जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी ने विकासखण्ड दहगवां के गांव भवानीपुर खल्ली का जायजा लिया। कोरोना संक्रमित व्यक्ति इसी गांव में ठहरा था। डीएम ने अपर जिलाधिकारी प्रशासन ऋतु पुनिया को निर्देश दिए हैं कि संक्रमित व्यक्ति कितने लोगों के सम्पर्क में आया और कहां-कहां ठहरा इसकी स्पष्ट जानकारी कर सम्पर्क में आए व्यक्तियों की भी सैम्पलिंग की जाए एवं उन व्यक्तियों को क्वारंटाइन किया जाए। एडीएम प्रशासन ने डीएम को अवगत कराया कि प्रशासन की ओर से कई बार जानकारी मांगने पर प्रधानों ने बाहरी व्यक्तियों की कोई जानकारी नहीं दी। एसएसपी ने मौके पर ही भवानीपुर खल्ली पूर्व प्रधान रईस अहमद एवं वर्तमान प्रधान नसरीन के प्रति सरफराज़ तथा भवानीपुर खैरू की ग्राम प्रधान गुलनाज़ के पति जुगनू को हिरासत में लेकर इनके विरुद्ध कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। डीएम ने निर्देश दिए कि गांव में यह ऐलान भी करा दिया जाए जो लोग भी इस संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आए हैं, वह अपनी अवश्य जांच कराएं आवश्यकता की स्थिति में उनको क्वारंटाइन भी किया जाए। यदि कोई व्यक्ति इस जानकारी को छुपाएगा और बाद में वह संक्रमित पाया गया तो उसके साथ उसके परिवार पर भी महामारी अधिनियम अन्तर्गत कठोर कार्यवाही की जाएगी। प्रशासन की ओर से ऐसे व्यक्तियों के सम्पर्क में आए घरों पर प्रवेश वर्जित का नोटिस चस्पा किया जाए और घर के सभी सदस्यों को घर में ही क्वारंटाइन किया जाए। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की वजह से पूरा गांव, मौहल्ला एवं शहरी संक्रमण की श्रेणी में आ सकते हैं। इसलिए ऐसे व्यक्ति से सम्पर्क की जानकारी कतई न छुपाई जाए तथा जांच कराकर स्वयं भी सुरक्षित रहें एवं अपने परिवार को भी सुरक्षित रखें। साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। लाॅकडाउन का पूर्णतया पालन करें। डीएम एवं एसएसपी ने लोगांे को मास्क एवं सैनिटाइज़र भी वितरित किए। उक्त व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर जिलाधिकारी ने संक्रमित व्यक्ति के ठहरने वाले क्षेत्रों को हॉटस्पॉट के रूप में चिन्हित कर सील और यहां अधिक पुलिस बल लगाकर चप्पे-चप्पे पर निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। इन क्षेत्रों की विशेष निगरानी के लिए डीएम ने सैक्टर एवं जोनल मजिस्ट्रेट तैनात भी कर दिए हैं। उन्होंने निर्देश दिए कि कोई भी व्यक्ति अनावश्यक घरों से नहीं निकलने दिया जाए, उनकी सारी दैनिक जरूरत की चीजें होम डिलीवरी के माध्यम से उनको प्राप्त कराई जाएगी। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 यशपाल सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। इससे पूर्व अम्बियापुर की ब्लाक प्रमुख विजेता यादव ने कोरोना से बचाव हेतु जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त को एक लाख 51 हजार रुपए का चेक दिया है।