• nationbuzz3

जिला पुरुष अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते मरीजों को मेडिकल कालेज रेफर


यूपी बदायूं। कोरोना काल में पहली बार जिला पुरुष अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी हुयी। यहां इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को ऑक्सीजन न होने के चलते मेडिकल कालेज को रेफर करना शुरू किया है। प्रशासन ने ऑक्सीजन के लिये आसपास के जिलों से संपर्क किया लेकिन सभी जगह एक जैसे हालात हैं। बरेली की कार्यदायी संस्था के हाथ खड़े कर देने से यह संकटर आया है। इधर राजकीय मेडिकल कालेज में तो सिर्फ 10 घंटे की आक्सीजन बची हैं। यहां 60 सिलेंडर काशीपुर से मंगाये गये हैं जो तड़के पहुंच जायेंगे।


रविवार को जिला पुरुष अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म हो गयी। बरेली गयी गाड़ी को दो दिन से ऑक्सीजन न मिलने पर खाली लौटना पड़ा। दोपहर बाद ऑक्सीजन खत्म होने पर हाहाकार मचना शुरू हुआ तो सीएमएस ने डीएम दीपा रंजन और शासनस्तर पर ऑक्सीजन खत्म होने की जानकारी दे दी है। इसके बाद गंभीर मरीजों को मेडिकल कालेज भेजना शुरू कर दिया है।


इधर मेडिकल कालेज में 15 छोटे और 15 बड़े सिलेंडर बचे हैं जो सिर्फ 10 घंटे की ऑक्सीजन की व्यवस्था कर पायेंगे। राहत की बात यह है कि काशीपुर से डीएम ने 60 सिलेंडर और मंगवाये हैं। फिलहाल जिले में ऑक्सीजन को लेकर गंभीर स्थिति बनी हुई है।


काशीपुर से मेडिकल कालेज को मिले 100 सिलेंडर


डीएम दीपा रंजन ने शनिवार को काशीपुर में बात की थी, जिसके बाद 100 ऑक्सीजन गैस सिलेंडर मिले। मगर वह बदायूं राजकीय मेडिकल कालेज पहुंचते-पहुंचते रात हो गयी। जिसके बाद यहां उपचार में ले लिये गये। 100 सिलेंडर काशीपुर से आने के बाद रविवार का दिन गुजर गया है वहीं शाम के समय सिर्फ 10 घंटे की ऑक्सीजन बची है। जिसके बाद 60 सिलेंडर और मंगाये गये हैं, जो तड़के तक यहां पहुंचने का दावा किया गया है।


मेडिकल कालेज को धड़ाधड़ रेफर


जिला पुरुष अस्पताल आने वाले मरीजों को बिना आक्सीजन के रोकना बंद कर दिया। स्टाफ ने इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को गंभीर हालत में ही राजकीय मेडिकल कालेज को रेफर करना शुरू कर दिया है। देर रात तक अधिकारी रेफर करते रहे हैं।


वार्ड के मरीजों पर भी आयेगा संकट


जिला अस्पताल के वार्डों में मरीज भर्ती हैं यहां गंभीर मरीजों को लेकर भी अस्पताल प्रशासन व्यवस्था करने में लगे हैं। कि इन मरीजों की और ज्यादा हालत गंभीर हुयी दिक्कत होगी।


सीएमओ को 15 सिलेंडर और मिले


ऑक्सीजन के संकट में सीएमओ के स्टोर में स्टाक नहीं है। इसके लेकर सीएमओ डा. यशपाल सिंह व्यवस्था करने में पिछले दो दिन से लगे हैं। जिसके बाद सीएमओ के अधीन अस्पतालों के लिये ऑक्सीजन मिली है। यह ऑक्सीजन के 15 सिलेंडर मिलने के बाद सीएमओ के स्टोर में इमरजेंसी के लिये रखे जायेंगे।


उपलब्ध ऑक्सीजन की स्थिति---


राजकीय मेडिकल कालेज


छोटे---15


बड़े----15


जरूर----220


आने की स्थिति---60


जिला महिला अस्पताल---


छोटे---26


बड़े---09


जरूरत---60


आने की स्थिति---00


जिला पुरुष अस्पताल--


छोटे---00


बड़े---00


जरूरत---130


आने की स्थिति----00


सीएमओ अधीन---


छोटे---100


बड़े----100


आने की स्थिति---15


सीएमएस ने बताया है ऑक्सीजन खत्म हुयी है। प्रयास कर रहे हैं कहीं से दिलवाई जाये, मेडिकल कालेज के लिये सिलेंडर मंगवाये थे और मंगाने के लिये कई जगह बात चल रही है। जल्द ही कुछ तो सिलेंडर उपलब्ध करा दिये जायेंगे।


दीपा रंजन, डीएम बदायूं


मेडिकल कालेज को ऑक्सीजन काफी अधिक चाहिये। प्रशासन के प्रयास से जो ऑक्सीजन उपलब्ध हुयी है, वह सिर्फ 10 घंटे की है। उसके बाद उम्मीद है 60 सिलेंडर आ जायेंगे। उसके माध्यम से ऑक्सीजन दी जायेगी, ऑक्सीजन की पूर्ति करना मुश्किल हो रहा है, स्थिति गंभीर है।


डॉ. सीपी सिंह, चिकित्सा अधीक्षक मेडिकल कालेज बदायूं


ऑक्सीजन पूरी तरह से खत्म हो गयी है, बरेली से सप्लाई आनी थी, वह नहीं आ पायी। इसकी वजह से ऑक्सीजन की कमी आई है। उच्चाधिकारियों को बता दिया गया है, गंभीर मरीजों को तत्काल मेडिकल कालेज भेज रहे हैं। भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन देने की स्थिति भी ठीक नहीं है, व्यवस्था करने में लगे हैं।


डॉ. विजय बहादुर राम, सीएमएस जिला पुरुष अस्पताल