• nationbuzz3

कस्बा अलापुर के मोहल्ले में प्रशासन टीम की छापेमारी, गरीबों का राशन डकार रहा था सपा नेता


यूपी बदायूं। सपा का जिला सचिव बने फहीमउददीन को सप्ताहभर हुआ है तब तक सपा नेता जेल जाने की नौबत आ गयी है, वहीं पार्टी की फजीहत करा डाली है। सपा नेता राशन का बड़ा माफिया निकला है। छापा पड़ने के बाद साफ हुआ है कि वह पहले सपा का कार्यकर्ता बना और शासन काल में राशन माफिया बन गया। तब से सेटिंगबाजी से खेल अधिकारियों के संरक्षण में लगातार जारी रहा।


बुधवार को कस्बा अलापुर के मोहल्ला काजी में प्रशासन की टीम ने छापामारा तो हड़कंप मच गया। डीएसओ रामेंद्र प्रताप सिंह ने नायब तहसीलदार, पूर्ति निरीक्षक सहित टीम ने छापमारी करके फहीम के घर के बाहर चावल से भरा जा रहा ट्रक पकड़ लिया। इसके अलावा घर में देखा तो घर में भी गरीबों का राशन भरा हुआ मिला है। तीन बजे छापामारी के बाद बुधवार रात को दस बजे टीमें फाइनल कर पायी हैं। तब तक टीमों ने मौके से 550 बोरा (275 क्विंटल) चावल बरामद किया है।


जिसमें 150 चावल हाथ से सिला एवं बाकी बोरा मशीन से सीले एवं मोहर वाले बरामद किये हैं। वहीं चावल म्याऊं एसएफसी को सुपुर्द कर दिया है। कस्बा में कोटेदार रूमा की दुकान चेक की है बाकी सील करा दी हैं जो गुरुवार 14 जनवररी को जांच होगी। पता चला कि सपा जिला सचिव फहीम के भाई रागुवउद्दीन की राशन की दुकान है। बाकी चार दुकानों पर सपा नेता का जबरिया कब्जा है।


सपा की कार्यकारिणी में, माफिया, गो तस्कर


सपा की नयी कार्यकारिणी पहले दिन से ही विवादों में आ गयी है। पहले महासचिव के मनोनयन पर अंगुली उठी। उन पर सपा सरकार में ही डीएम व एसएसपी ने गोतस्करी का मुकामद दर्ज कराया था। यह मामला शांत नहीं हुआ के सचिव गरीबों का राशन हड़प करने वाला निकल पड़ा। राशन माफिया के रूप में फहीमउद्दीन का मामला सामने आया है, जो सपा का जिला सचिव हैं। नयी कार्यकारिणी में पुराने सपाइयों को जगह नहीं दी। जिससे वे भी भीतर ही भीतर नाराज हैं। इस मामले को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव तक जानकारी दी जायेगी।


पहला ट्रक बहजोई को रवाना, दूसरा पकड़ा गया


अलापुर से राशन माफिया और सपा नेता का बड़ा लंबा जाल बिछा है, तभी वह गरीबों का राशन खपा पाता है। वह गरीबों का राशन जिले में नहीं सीधे दूसरे जिलों को राशन की खेंप सप्लाई कराता है। बुधवार की शाम को जो ट्रक चावल का पकड़ा गया है वह दूसरा ट्रक है। एक ट्रक तो बुधवार की सुबह को निकल चुका था। बुधवार को सपा नेता दो ट्रक चावल सप्लाई करने वाला था। बतादें कि एक ट्रक चावल बहजोई पहुंच चुका है। जिसमें करीब 2500 क्विंटल चावल बहजोई पहुंच चका है।


शादी से पहले और अब बाद में सपा नेता चला रहा था दुकान


कस्बा की राशन दुकानों में एक राशन की दुकान सपा नेता ने रूमा के नाम करा रखी है। रूमा ने राशन की दुकान कभी नहीं चलायी। शादी से पहले भी सपा नेता फहीम रूमा की दुकान चलाता था, वहीं पिछले काफी समय पहले रूमा की शादी हो गई। शादी होने के बाद रूमा अपनी ससुराल चली गई और रूमा की दुकान पर फिर फहीम का पूरा कब्जा हो गया।


सपा शासन काल में पांच दुकानों पर किया था कब्जा


सपा नेता फहीम ने सपा की ही फजीहत कराने में कोई कसर नहीं छोड़ी है भले ही जिला सचिव अब बना है, लेकिन उसने के शासन काल में सत्ता का भरपूर फायदा उठाया है। सपा शासन काल में अफसरों पर दबाव डालकर सपा नेता फहीम ने पांच दुकानों पर कब्जा किया, इसके बाद सपा से भाजपा शासन काल आ गया। मगर उसकी सेटिंग कामयाब रही। उसने दूसरे दुकानदार जब हाथ से बाहर हुये तो कस्बा व अमादपुर की दुकानों को सस्पेंड करा दिया और अपना यहां अटैच करा लिया।


प्रस्ताव न कराने की दो लाख रकम


परिवार ने आखिरकार सच उगल ही दिया। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि परिवार बार-बार बोल रहा था अब किसकी शिकायत पर छापा डाल दिया है, पांच-पांच दुकानें अगर अचैट भी है तो क्या होगा। इस बात के तो हर महीने दो लाख दिये जाते हैं, तथा हर बार कहने पर जरूरत पूरी की जाती है। इसलिये कि न प्रस्ताव किया जाये और न ही दुकानों पर छापा डाला जाये। इसके बाद भी छापा डालकर एक तरह से धोखा किया है।


डीएम के निर्देश पर छापा मारा है, टीम के साथ पड़ताल कर ली है। मौके से फहीमउद्दीन पुलिस को हिरासत में दे दिया है। घर व ट्रक से 550 बोरा चावल बरामद किया है, कोटेदार रूमा के यहां भी राशन कम मिला है। बरामद राशन म्याऊं एसएफसी गोदाम को सुपुर्द कर दिया है। थाना में तहरीर देकर सपा नेता सहित कोटेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है। राशन सरकारी सील लगा हुआ भी पकड़ा है।


रामेंद्र प्रताप सिंह, डीएसओ

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube