• nationbuzz3

सहसवान के गांव जामुनी में भ्रामक निकला महिला का दावा, पुलिस ने पिल्ला छुड़वाया


यूपी बदायूं। सहसवान में महिला द्वारा कुत्ते के बच्चे को जन्म देने का भ्रामक दावा करने के मामले में सोमवार को सीओ चंद्रपाल सिंह और कोतवाल विशाल प्रताप सिंह ने जांच शुरू की। गांव पहुंचकर महिला से पूछताछ की, लेकिन महिला भ्रामक बात मानने को तैयार नहीं थी, लेकिन कड़ी पूछताछ के बाद महिला गलती मानते हुए माफी मांगने लगी‌। पुलिस ने महिला के पास मौजूद पिल्ला को उससे लेकर छुड़वा दिया है।


सहसवान कोतवाली क्षेत्र के गांव जामुनी निवासी बंशीलाल की पत्नी लौंग श्री ने दो दिन पहले दावा किया था कि उसने अपने गर्भ से कुत्ते के बच्चे को जन्म दिया है। उसका दावा था कि उसके पेट में 17 महीने से एक गांठ थी। भैरव बाबा उसके सपने में आते थे। वह उसके गर्भ से जन्म लेने की बात कहते थे। महिला के इस दावा के बाद उसके घर तमाम लोगों के आने-जाने का सिलसिला शुरू हो गया। सोमवार को यह मामला चर्चा का विषय बन गया। जिस पर सीओ चंद्रपाल सिंह व कोतवाल विशाल प्रताप सिंह गांव पहुंचे। उन्होंने महिला और उसके परिजनों से पूछताछ की। पुलिस पूछताछ के दौरान महिला और उसके परिजन पहले भ्रमित बात स्वीकार करने को राजी नहीं हुये, लेकिन कड़ी पूछताछ के बाद महिला और उसके परिजनों ने भ्रम फैलाने की बात स्वीकार की। साथ ही गलती मानते हुये माफी मांगने लगे। इसके बाद पुलिस ने पिल्ले को गांव में ही एक कुतिया के बच्चों में छुड़वा दिया। कोतवाल विशाल प्रताप सिंह ने बताया कि गांव पहुंचकर जांच की गयी। जांच में पूरा मामला झूठा और भ्रामक पाया गया। भ्रम फैलाने के मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।