• nationbuzz3

सपा किसान यात्रा को देखते हुए उस्मानी समेत कई नेता नजरबंद बोले, सरकार तानाशाह


यूपी बदायूं। किसान आंदोलन के चलते मौलाना डॉ यासीन अली उस्मानी को पुलिस ने हिरासत मे लिया और शाम को रिहा कर दिया है। प्रदेश स्तरीय आह्वान पर सोमवार दोपहर से मालवीय आवास गृह पर सपाइयों का धरना प्रदर्शन प्रस्तावित था, लेकिन पुलिस ने सुबह सात बजे से ही सपा के नेताओं को उनके आवास पर नजर बंद कर दिया है।

दातागंज में सपा जिला अध्यक्ष प्रेमपाल सिंह यादव एवं उनके बेटे पूर्व ब्लाक प्रमुख अवनीश यादव पुलिस ने आवास के अंदर घेर रखे सपा नेता समीर खान ने भी दी गिरफ़्तारी पुलिस ने पिता पुत्र दोनों नेताओं के मोबाइल भी जब्त कर लिए हैं। उझानी में पूर्व मंत्री विमल कृष्ण, बिसौली में पूर्व विधायक आशुतोष मौर्य भी नजर बंद है। श्हर में मुख्तार बाबा, सहित अभी पदाधिकारियों के घर के बाहर पुलिस का पहरा लगा दिया। नेताओं के मोबाइल पुलिस ने अपने पास ले लिये।


मौलाना डॉ यासीन अली उस्मानी ने कहा कि हम लोगों को नजर बंद करना सरकार की एक तानाशाही रवैया दर्शाता है। हम लोग शांतिपूर्ण ढंग से किसान यात्रा के माध्यम से किसानों की आवाज को बुलंद करना चाह रहे हैं। हमारी एवं किसानों आवाज को दबाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार पूरी तरह से हिटलरशाही पर उतर आई है।अब जनता ही इस हिटलर शाही का जवाब देगी।इधर सपा के पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव का भी सोमवार जिले में आगमन है।ऐसे में पुलिस जनपद की सीमाओं पर भी सक्रिय है।माना जा रहा है कि पुलिस पूर्व सांसद को जनपद में घुसने से रोक सकती है। इधर सपा के कुछ कार्यकर्ता मालवीय आवास पर पहुंच भी गए हैं यहां भी पुलिस का कड़ा पहरा है।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube