• Nationbuzz News Editor

कोरोना काल में गद्दी चौक व लाबेला चौक पर दुकानों की तोड़- फोड़ पर बहुत अफसोस, आबिद रज़ा


यूपी बदायूं। आज गद्दी चौक पर व पिछले दिनों लाबेला चौक पर कोरोना काल में व्यापारियों की दुकानों की तोड़फोड़ की कार्रवाई पर अफसोस जाहिर करते हुए पूर्व मंत्री आबिद रज़ा ने कहा इस समय पूरा देश कोरोना की महामारी से जूझ रहा है ऐसे समय में यह कार्रवाई ठीक नहीं यदि यह दुकाने गलत थी तब उस समय के संबंधित अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए थी।


किसी भी इंसान की रोजी रोटी की जगह को तोड़ना या किसी इंसान के घर को तोड़ना सरकार की नजर में हो सकता है अच्छा काम हो लेकिन अल्लाह या भगवान की नजर में यह गलती नहीं बल्कि एक बड़ा गुनाह है।


आबिद रजा ने यह भी कहा हम बदायूं शहर के चेयरमैन रहे, शहर विधायक रहे हमने अपने कार्यकाल में किसी भी व्यापारी चाहे वह हिंदू ,मुसलमान ,सिख ,ईसाई हो किसी दुकानदार की ना एक भी ईट तोड़ी और ना ही अपने कार्यकाल में किसी व्यापारी की एक भी ईट टूटने दी और अपने कार्यकाल में नगरपालिका की एक इंच जगह पर अतिक्रमण भी नहीं होने दिया।


हम इस तोड़फोड़ की कार्रवाही में किसी अधिकारी को दोषी इसलिए नहीं मानते हैं क्योंकि हम जानते हैं कि अधिकारी सरकार की मंशा के अनुरूप कार्य करते हैं सरकार जो चाहती है अधिकारियों को दिल से या बेदिल से वह काम करना मजबूरी होता है । क्योंकि हम भी सत्ता में रहे हैं। सरकार में रहे हैं इसलिए इस तोड़फोड़ की जिम्मेदार सरकार है। सरकार की मंशा जनता व व्यापारियों के लिए ठीक नहीं है।


हम गद्दी चौक व लाबेला चौक के व्यापारियों से कहना चाहते हैं कि जिनकी दुकानों को नाजायज तरीके से तोड़ा गया है। जब भी हम सत्ता व सरकार में वापस आएंगे उनकी दुकानों को सबसे पहले बनवाने का काम करेंगे तथा व्यापारियों के नुकसान का मुआवजा भी सरकार से दिलाएंगे । अभी दुकानदारों को सब्र ,धैर्य से काम लेना चाहिए अभी ऐसा कोई गैरकानूनी काम ना करें जिससे मुश्किलें और बड़े।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube