• nationbuzz3

कई दिन से धान की तौल नहीं हुई किसान खासा परेशान, और ना ही हो रही गन्ने की तौल


यूपी बदायूं। धान बेचने को किसान खासा परेशान हैं। कई दिनों के इंतजार के बाद किसी के धान की तौल होती है तो किसी को बाजार में जाकर धान बेचने पड़ रहे हैं। बिल्सी के नवीन सब्जी मंडी स्थित धान क्रय केंद्र पर 26 नवंबर से बंद है। केंद्र प्रभारी पर रिपोर्ट दर्ज हो चुकी है। लेकिन, नए केंद्र प्रभारी की नियुक्ति नहीं की जा रही है। इससे यहां तौल नहीं शुरू हो सकी है।


गांव बनबेहटा के किसान राम निवास क्रय केंद्र के चक्कर लगाकर परेशान हैं। उन्होंने कहा कि सोमवार तक धान की तौल नहीं की तो आत्महत्या कर लेंगे। वहीं कुछ किसानों का आरोप है कि जब केंद्र खुला था तो जेब गर्म करने वालों के धान की तौल जल्द हो जाती थी और अन्य किसान इंतजार करते रहते थे। जिन किसानों के धान की तौल हो भी चुकी है। वह अपने बैंक खाते में रुपये आने का ही इंतजार कर रहे हैं।


धान की तौल सात तारीख को कराई थी। आज तक भुगतान नहीं किया है। जबकि मुख्यमंत्री का निर्देश है कि तौल के 72 घंटे में भुगतान मिलेगा।


विवेक कुमार, गांव खैरी


एक माह से धान क्रय केंद्र के चक्कर लगा रहे हैं। लेकिन, धान की तौल नहीं हो पा रही है। सोमवार तक धान की तौल नहीं हुई आत्महत्या कर लेंगे।


राम निवास, बनबेहटा


कई दिनों से केंद्र के चक्कर लगा रहे हैं। कल-परसों आने की बात कहकर लौटाते है। अब तौल बंद है। यहां जेब गर्म करने वालों की तौल होती है।


सिद्धार्थ, गांव बन्नी ढकपुरा


तीन दिन से नहीं हो रही गन्ना की तौल, किसान परेशान

गन्ने का सीजन शुरू हो गया लेकिन क्रय केंद्रों पर अव्यवस्थायें दुरुस्त नहीं हो पाईं। मलगांव पर लगे राणा शुगर मिल के क्रय केंद्र पर तीन दिन से गन्ना खरीद बंद है। खरीद न होने की वजह से किसान परेशान हैं और खुले आसमान के नीचे रात बिता रहे हैं।


किसानों ने गन्ना अफसरों से तौल शुरू कराने की मांग की। राणा शुगर मिल के मलगांव पर स्थापित होने वाले क्रय केंद्र पर बिनावर के आसपास के करीब 20 गांव के किसान गन्ना सप्लाई करते हैं। इस बार भी क्रय केंद्र पर गन्ना खरीद की जा रही है, लेकिन बीते तीन दिनों से क्रय केंद्र पर गन्ना खरीद रोक दी गई।


खरीद न होने की वजह से ट्रैक्टर ट्राली, बैल गाड़ियों की लाइन लग गई। किसान गन्ना तौल के इंतजार में सेंटर पर ही डेरा डाले हुए हैं, लेकिन गन्ना खरीद नहीं की जा रही। किसान वीरपाल, नेमचंद्र, ओमप्रकाश, विशाल, अनिल कुमार, दिनेश कुमार, मुनीष ने बताया की फैक्ट्री पर्ची नहीं भेज रही है। जिसकी वजह से गन्ना की तौल नहीं हो पा रही। किसानों का आरोप है कि माफियाओं का गन्ना खरीदा जा रहा है। हम लोग कहां गन्ना ले जायें। गन्ना की तोल नहीं की गई तो ऐसे ही गन्ना लौट कर चले जाएंगे। सेंटर इंचार्ज अशोक कुमार ने बताया की किसानों के पास पर्ची नहीं हैं, इसीलिये तौल नहीं हो पा रही है।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube
© Copyright ® All rights reserved Nation Buzz 2017 - 2020