• Nationbuzz News Editor

बदायूं में लॉकडाउन का पालन कर रहे रोज़ेदार घरों में रहकर की इबादत, मस्जिदों के दरवाज़े दिखे बंद


बदायूं। जिले में कोरोना महामारी से निपटने के लिए लॉकडाउन के बीच रमजान के दौरन घरों में रोजेदारों ने की इबादत, मस्जिदों के दरवाज़े बंद दिखाई दिए। रमजान माह की शुरूआत हो गई। जिलेभर में रोजेदारों ने घर पर रहकर रोजा रखा और इबादत की। घर पर ही नमाज अदा करने के साथ ही सहरी और इफ्तार किया। शहर भर की मस्जिदें बंद दिखाई दी तो वही जामा मस्जिद शम्सी के भी दरवाज़े बंद मिले हॉटस्पॉट एरिया समेत अन्य इलाकों में खाद्य पदार्थ महंगे मिलने के कारण जेब पर ज्यादा भार पड़ रहा है जिसपर लोगों ने ऐतराज़ जताया। रोजेदारों ने लॉकडाउन का पालन करते हुए घरों में रहे लोग गुरुवार को सुबह सहरी के बाद पूरा दिन इबादत में गुजरा। शाम को इफ्तार किया। रोजेदारों के मुताबिक आम दिनों में 70 से 80 रुपये किलो बिकने वाला खजूर 180 से दो सौ रुपये प्रति किलो के हिसाब से ठेलों पर बिकने आ रहा है। व्यापारियों का दो टूक कहना है कि महंगा ही मिल रहा है, इसलिए महंगा बेच रहे हैं। हरी सब्जियों की भी खरीदारी मध्यमवर्गीय तबके के लोग हरी सब्जियां और दालें आदि ज्यादा उपयोग में ला रहे हैं। जबकि तमाम लोग ऐसे भी हैं जो खरीद रहे हैं। बाजार पूरी तरह बंद है, ऐसे में होम डिलीवरी पर ही पूरी व्यवस्था टिकी हुई है।