• nationbuzz3

फाइनेंसकर्मी ने खुद ही रचा था लूट का ड्रामा, इनके पास से की नकदी भी बरामद


यूपी बदायूं। फाइनेंस कंपनी के छह लाख से ज्यादा की नकदी लूट की घटना का पुलिस ने राजफाश किया है। फाइनेंस कर्मचारी ने दोस्त के साथ लूट का ड्रामा रचा था। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार करते हुए उनके पास से छह लाख 18 हजार रुपये की नकदी बरामद की है।


मूसाझाग थाना के गांव किसरूआ निवासी फाइनेंस कंपनी के कर्मी अश्विनी कुमार ने 10 मार्च की रात पुलिस को सूचना दी। गांव दहेमी के पास मुरादाबाद-फर्रुखाबाद हाईवे पर बदमाशों ने उसके साथ लूटपाट की। पुलिस मौके पर पहुंची तो वह बेहोशी की हालत में रोड किनारे पड़ा था। उसकी बाइक भी क्षतिग्रस्त थी। पुलिस ने उसको जिला अस्पताल में भर्ती कराया। उसने बताया कि फाइनेंस कंपनी के छह लाख से ज्यादा रुपये लेकर वह जा रहा था। रास्ते में बदमाशों ने चलती बाइक पर प्रहार कर उसके पास से नकदी लूट ली। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद घटना की जांच शुरू कर दी। एसएसपी संकल्प शर्मा के निर्देश पर स्वॉट व सर्विलांस टीम ने भी जांच शुरू की। पुलिस ने संदेह के आधार पर बारह पत्थर स्थित वन विभाग के जंगल से अश्विनी और उसके साथी धीरेंद्र कुमार यादव निवासी किसरूआ को हिरासत में ले लिया। सख्ती से पूछताछ में फाइनेंस कर्मी बताया कि कंपनी के रुपये हड़पने को उसने साथी धीरेंद्र के साथ मिलकर यह ड्रामा किया। कंपनी की रुपये जमा करने वाली मशीन को उसने गांव के पास तालाब में छिपा दिया। पुलिस ने अश्विनी के पास से चार लाख रुपये और साथी धीरेंद्र के पास से दो लाख 18 हजार रुपये बरामद कर लिए। तलाशी लेने पर दोनों के पास से अवैध असलाह भी मिले। पुलिस ने दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी और पुलिस को गुमराह करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज करते हुए उन्हें जेल भेजा है।


फाइनेंसकर्मी ने अपने साथी के साथ मिलकर लूट का ड्रामा रचा था। जांच मे घटना की सच्चाई पता चली। फाइनेंसकर्मी और उसके साथी से छह लाख 18 हजार की नकदी बरामद की है। दोनों पर मुकदमा दर्ज किया है। वर्कआउट करने वाली टीम को पुरस्कृत किया जाएगा।


संकल्प शर्मा, बदायूं एसएसपी