• nationbuzz3

शुक्रवार को आई जांच रिपोर्ट में जिले में धीमी हुई कोरोना की रफ्तार, 49 नए संकर्मित मिले


यूपी बदायूं। कोरोना संक्रमण की रफ्तार कुछ धीमी हो गई है। शुक्रवार को जिले में संक्रमितों का आंकड़ा 50 से कम रहा। 180 संक्रमित स्वस्थ हुए हैं।


शुक्रवार को आई जांच रिपोर्ट में जिले में 49 नए संक्रमित मिले हैं। इनमें सीएमओ ऑफिस में दो और राजकीय मेडिकल कॉलेज में एक संक्रमित शामिल है। शहर में मिले नए संक्रमितों केे बात करें तो पिछले आठ दिन में सबसे कम 11 संक्रमित शहर में मिले हैं। उसावां में आठ, जगत में छह, उझानी में तीन, दातागंज में दो संक्रमितों के साथ आठ ऐसे संक्रमित हैं जो दूसरे जिलों के हैं। संक्रमितों के संपर्क में आने वाले 86 लोगों को ट्रेस करने के बाद इनके सैंपल लिए गए हैं। शुक्रवार को संक्रमितों की संख्या भले कम रही है, लेकिन खतरा टला नहीं है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि मौसम साफ होने के साथ ही बाजारों, सार्वजनिक स्थानों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड आदि स्थानों पर भीड़ बढ़ने लगी है। इसका असर सीधे संक्रमण की रफ्तार पर होगा। आने वाले दिनों में संक्रमितों की संख्या बढ़ने से इनकार नहीं किया जा सकता। शुक्रवार को 180 संक्रमितों के स्वस्थ होने और कम संख्या में संक्रमित मिलने के बाद सक्रिय संक्रमितों की संख्या एक हजार से कम हो गई है।


-

शुक्रवार को आई जांच रिपोर्ट में जिले में 49 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनके संपर्क में आने वाले 86 लोगों को ट्रेस करने के बाद उनके सैंपल लिए गए हैं। संक्रमण की रफ्तार कुछ कम हुई है, लेकिन खतरा अब भी टला नहीं है। आने वाले दिनों में संक्रमितों की संख्या बढ़ने से इनकार नहीं किया जा सकता।

-डॉ. रजनीश शर्मा

कांट्रैक्ट एंड ट्रेसिंग ऑफिसर कोविड-19

-

चुनाव ड्यूटी में लगे कर्मचारियों को 31 तक शत प्रतिशत बूस्टर डोज

बदायूं। विधानसभा चुनाव ड्यूटी में लगाए जाने वाले कर्मचारियों को 31 जनवरी तक शत प्रतिशत बूस्टर डोज दे दी जाएगी। कर्मचारियों और अधिकारियों को बूस्टर डोज देने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने डी पॉल स्कूल स्थित प्रशिक्षण केंद्र पर भी टीकाकरण की व्यवस्था की है।


जिले में 16500 फ्रंट लाइन वर्कर्स को बूस्टर डोज देने का काम लगभग पूरा हो चुका है। इसके साथ ही चुनाव ड्यूटी से संबंधित कर्मचारियों को बूस्टर डोज देने का काम भी लगभग अंतिम चरण में है। इसे 31 जनवरी तक पूरा कर लिया जाएगा।

कर्मचारियों को बूस्टर डोज के लिए अब तक 273 दिन की सीमा तय की गई थी। विधानसभा चुनाव को देखते हुए इसे कम करके 90 दिन कर दिया गया है। अगर किसी कर्मचारियों को 90 दिन पहले तक कोरोना के दोनों टीके लग चुके हैं तो उसे बूस्टर डोज दी जाएगी। नोडल अधिकारी टीकाकरण डॉ. मोहम्मद असलम ने बताया कि बूस्टर डोज देने का काम अंतिम चरण में है। चुनाव प्रशिक्षण केंद्र पर भी टीकाकरण केंद्र बनाया गया है। बूस्टर डोज का काम 31 जनवरी तक पूरा कर लिया जाएगा।