• nationbuzz3

जिले में एमएलसी पद पर पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव स्वयं बने सपा प्रत्याशी, आबिद रज़ा


यूपी बदायूं। जिले में एमएलसी चुनाव शुरू होने पर पूर्व मंत्री आबिद रज़ा ने प्रेस के माध्यम से एक बयान जारी करके कहा मौजूदा हालात में बदायूं जिले में एमएलसी के पद पर पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव को स्वयं प्रत्याशी बनना चाहिए। एमएलसी का चुनाव हारने के लिए किसी नेता को बलि का बकरा ना बनाएं।

जिला पंचायत के चुनाव में भी जानबूझकर चुनाव लड़ने के लिए बलि का बकरा बनाया गया जो चुनाव धर्मेंद्र यादव पहले से जानते हैं कि 100% चुनाव जीता नहीं जा सकता उस चुनाव में तरह-तरह के प्रलोभन देकर प्रत्याशी हारने के लिए तैयार किया जाता है।


यदि धर्मेंद्र यादव स्वयं को बदायूं का बड़ा लीडर मानते हैं स्वयं को बदायूँ का विकास पुरुष मानते हैं तब उनको एमएलसी का चुनाव स्वयं लड़ना चाहिए। यदि वह धोखे से जीत गए तब विधान परिषद के नेता इसलिए बन जाएंगे क्योंकि एक तो वह सपा परिवार के हैं ।दूसरी बात विधान परिषद के नेता का पद स्वर्गीय अहमद हसन के इंतकाल के बाद खाली हो गया है। यह हमारा धर्मेंद्र यादव को सियासी सुझाव है हमारे सुझाव के बाद देखना यह है कि धर्मेंद्र यादव जिले की सियासत में अपने को ईमानदारी में कितना दमदार मानते हैं।


यदि धर्मेंद्र यादव अपने को मौजूदा हालत में कमजोर महसूस करने लगे होंगे तब हमारा यह सियासी सुझाव नहीं मानेंगे अब पता चल जाएगा हाथी के दांत सिर्फ दिखाने भर के हैं या खाने के भी हैं।