• Nationbuzz News Editor

सब्जी खरीदने को मंडी में मजमा, आधी रात बाद दौड़े अफसर, सामाजिक दूरी का पालन करने को चेताया


बदायूं। जिले के लिए सुबह से शाम तक पुलिस और प्रशासन द्वारा कोरोना बचाव को होने वाली पूरी मेहनत आधी रात को चूर-चूर हो रही है। जिस पर प्रशासन ने कड़ा फैसला ले लिया है। रात में मंडी में सब्जी खरीदने, बेचने वालों के जुटने वाले मजमे की खबर के बाद आधी रात बाद दौड़े अफसरों ने यहां छापा डाल दिया। एक बार तो अफसरों का भी सिर मजमा देख चकरा गया। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए जमा भीड़ को चेतावनी दी और उन्हें सामाजिक दूरी का पालन करने को चेताया। डीएम के आदेश पर सिटी मजिस्ट्रेट ने साफ कह दिया कि नियमों का पालन नहीं हुआ तो सभी दुकानों के लाइसेंस निरस्त कर देंगे। मंडी सचिव को भी सुधार लाने अन्यथा कार्रवाई को तैयार रहने की चेतावनी दी।शनिवार की आधी रात को 12 बजे मंडी समिति की किसी ने वीडियो बनाकर डीएम कुमार प्रशांत को भेज दिया। जिसमें लॉकडाउन व सामाजिक दूरी के नियम चूर-चूर हो रहे थे, हजारों की संख्या में भीड़ और एक कदम रखने की जगह नहीं थी। यहां दुकानदार से खरीदारी तक कोई न तो सामाजिक दूरी में था नहीं मास्क लगाए थे। वीडियो देखकर डीएम ने आधी रात को ही सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमार, एसडीएम सदर पारसनाथ मौर्य, सीओ सिटी विनय कुमार द्विवेदी को भेज दिया। यहां पहुंचे अफसरों ने मंडी समिति के हालत देखकर वह दांतों तले उंगलियां दबाने को मजबूर हो गए। मंडी सचिव की लापरवाही की पोल खोलती भीड़ देख अफसरों ने नाराजगी जताई। मंडी सचिव ओमकार सिंह वाना को बुलाया और तत्काल एलाउंसमेट करवाया, वहीं फोर्स को लगाकर रात को ही सामाजिक दूरी करवाई है। मंडी सचिव का लिखित जवाब तलब कर लिया है। सील इलाके से भी निकलकर पहुंचते लोगशहर में 13 हॉटस्पाट के सील इलाकों की रात में बांस बल्लिायां खुल जाती हैं। ऑटो-ईरिक्शा, रिक्शा, तांगा सब कुछ मंडी की दौड़ लगना शुरू कर देते हैं। सवाल उठता है कि जब इलाका सील है, पुलिस, प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग के अलावा न तो वहां कोई आ सकता और न ही जा सकता है। फिर सील इलाके से लोग कैसे निकलते हैं। रात को 12 बजे मंडी में छापामारी की थी, स्थिति बहुत चिंताजनक मिली है। डीएम को पूरी रिपोर्ट दे दी है, मंडी सचिव का जवाब तलब कर लिया है। मंडी सचिव से कह भी दिया है, एलाउंस के माध्यम से तथा सामाजिक दूरी बनवाकर स्थित सुधारें, वरना सभी के लाइसेंस निरस्त कर देंगे साथ ही सचिव को भी छोड़ा नहीं जाएगा। अमित कुमार, सिटी मजिस्ट्रेट

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube