• Nationbuzz News Editor

ट्रंप की पत्नी मेलानिया के सरकारी स्कूल के दौरे से हटा केजरीवाल का नाम, थरूर बोले - घटिया राजनीति



देश खबर। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे के दौरान उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप दिल्ली सरकार के स्कूल में 25 फरवरी को दौरा करेंगी। इस सरकारी स्कूल के दौरे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का नाम हटा दिया गया है।

इससे पहले मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री, दोनों को अमेरिकी प्रथम महिला के साथ स्कूल विजिट में शामिल होना था। हालांकि अब उनका नाम हटा दिया गया है। इस पर आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य प्रीति शर्मा मेनन का कहना है कि भले ही पीएम नरेंद्र मोदी अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया को आमंत्रण न दें लेकिन उनका काम बोलता है।


इस मुद्दे पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ‘कुछ मुद्दों पर निम्न स्तर की राजनीति नहीं होनी चाहिए। यदि हम एक-दूसरे के पैर खींचना शुरू करते हैं, तो भारत विवादों में आता है। भारत सरकार अमेरिका को नहीं बोलती है कि किसे आमंत्रित करते है और किसे नहीं।’


हालांकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने इसे लोकतंत्र के लिए अस्वस्थ परंपरा बताया है। शशि थरूर ने ट्वीट किया, आधिकारिक अवसरों के लिए चुनिंदा निमंत्रण भेजने की इस तरह की क्षुद्र राजनीति को मोदी सरकार द्वारा शुरू किया गया, जो हमारे लोकतंत्र के लिए अस्वस्थ है। राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के भोज और स्वागत कार्यक्रम से विपक्ष को अलग करना तुच्छ लग सकता है, लेकिन यह भारत को कमजोर करता है।


बता दें कि पहली बार दिल्ली के किसी सरकारी स्कूल में अमेरिका की प्रथम महिला विशेष मेहमान होंगी। इस दौरान मेलानिया ट्रम्प हैप्पीनेस क्लास में बच्चों के साथ समय बिताएंगी। ये जानने की कोशिश करेंगी कि कैसे सरकारी स्कूल के बच्चों के बीच तनाव कम किया जाता है। लगभग 1 घंटे का समय मिलानिया ट्रंप सरकारी स्कूल में बिताएंगी।