top of page
  • Mohd Zubair Qadri

दो एडीपीआरओ फंसे, कंप्यूटर जब्त पंचायतीराज विभाग के कई कर्मचारी शक के घेरे में


यूपी बदायूं। आरक्षण की सूची सरकारी सिस्टम में गोपनीय बनने की वजह से वायरल हो गयी है। सूची वायरल होने के मामला पंचायत राज कार्यालय से सामने आ रहा है। इस मामले में दो अधिकारियों के कंप्यूटर भी जब्त कर लिये हैं और एडीपीआरओ, कर्मचारी सवालों में फंस गये हैं। वायरल सूची के मामले में जवाब मांग लिया है। सूची वायरल को लेकर हड़कंप मचा हुआ है।


जिला पंचायत राज विभाग में एक के बाद एक नया मामला इस विभाग में सामने आते रहते हैं। अब चुनाव को लेकर बरती जाने वाली गोपनीयता को अधिकारियों व कर्मचारियों ने भंग कर दिया है। आरक्षण बाद में बुधवार को जारी किया गया लेकिन उससे एक दिन पहले ही आरक्षण की सूची वायरल कर दी गयी। मामले में सीडीओ निशा अनंत ने बुधवार को ही दो एडीपीआरओ के कंप्यूटर जब्त करा लिये। दोनों एडीपीआरओ के कंप्यूटर सीडीओ के कार्यालय में रखे हैं। इसमें दोनों एडीपीआरओ व बाबुओं सहित छह कर्मचारी सूची वायरल मामले में फंस रहे हैं। जिनसे सीडीओ द्वारा गुपचुप तरीके से पूछताछ हो रही है।


आरक्षण जारी तो होना ही था, किसने जारी की है, मुझे जानकारी नहीं है। बाकी कंप्यूटर मैंने मंगाये थे वह सरकारी संपत्ति हैं।


निशा अनंत, प्रभारी डीएम/सीडीओ


bottom of page