• nationbuzz3

शहर में अंडरग्राउंड केबिलिंग का फिर से शुरू हुआ विरोध ज्ञापन सौंपकर आवाज उठाने की मांग


यूपी बदायूं। शहर में डाली गई अंडरग्राउंड केबिलिंग के मानकों सवाल उठने के साथ ही अब आम आदमी इसके खिलाफ आवाज उठा रहा है। गुरुवार को गणित प्रवक्ता एचएन सिंह की मौत के बाद से समाज का हर तबका स्तब्ध है। शुक्रवार को बेसहारा पशुओं की मदद करने वाली संस्था मदद एक कारवां के पदाधिकारियों ने पूर्व दर्जा राज्यमंत्री आबिद रजा को ज्ञापन सौंपकर केबिलिंग के खिलाफ आवाज उठाने की मांग की।


संस्था के अध्यक्ष व सर्पमित्र विकेंद्र शर्मा समेत पदाधिकारी दोपहर को पूर्व दर्जा राज्यमंत्री के आवास पर पहुंचे। यहां पदाधिकारियों ने उन्हें सौंपे ज्ञापन में बताया कि केबिलिंग के खिलाफ साल 2016 में सबसे पहले उन्होंने ही मानकों को लेकर आवाज उठायी थी। उस वक्त लोग अधोमानक के दुष्परिणामों को समझ नहीं सके थे। अब जहां दर्जनों बेजुबान-बेसहारा पशुओं की इस केबिलिंग ने जान ले ली। कुल मिलाकर हालात दिनोंदिन खराब होते जा रहे हैं। इस मौके पर राहुल एम लाल, प्रियम वार्ष्णेय, सिराज अहमद, अमन गुप्ता, केडी पाठक, शेर सिंह, अनिल पवार, समीर अंसारी व सलमान आदि मौजूद रहे।