• nationbuzz3

जिले के 981 युवा ने ली कोरोना वैक्सीन की पहली डोज, युवाओं ने जोश के साथ टीकाकरण कराया


यूपी बदायूं। जिले में 18 प्लस (युवाओं) में कोरोना टीकाकरण लगना शुरू हो गया है। युवाओं में पहले दिन कोरोना टीकाकरण को लेकर एक अलग उत्साह और उमंग दिखी है।


टीकाकरण को युवाओं ने महोत्सव व उत्सव की तरह महौल बनाकर कोरोना का टीकाकरण कराया। टीकाकरण केंद्रों पर सुबह से ही वैक्सीन लगवाने के लिये पहुंच गये। टीकाकरण को लाइनें लग गईं। जिले में कोरोना टीकाकरण को 1250 का लक्ष्य दिया गया था, जिसमें 981 कुल लोगों ने कोरोना का टीकाकरण कराया है। जिले के 269 लोगों ने कोरोना का टीका छोड़ दिया है। इसमें 12 वर्ष तक की उम्र वाले बच्चों के अभिभावकों को कोरोना वैक्सीन लगाने की अलग से व्यवस्था रही। मगर न्यायिक कर्मी, रोडवेज, डाकघर कर्मी सहित ने टीकाकरण कम कराया है इसलिये संख्या में कमी रही है।


308 युवाओं ने छोड़ा टीकाकरण


जिले में युवााओं में भी कोरोना वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। पहले दिन युवाओं में उत्साह और उमंग तो देखी गई लेकिन टीकाकरण फिर भी कम रहा है। पहले दिन जिले में युवाओं के लिये 1200 वैक्सीनेशन का लक्ष्य था, जिसमें से केवल 892 युवाओं ने ही वैक्सीनेशन कराया है। इससे जिले में 308 युवाओं ने पंजीकरण कराने के बाद भी कोरोना वैक्सीनेशन छोड़ दिया है।


1,61 बुजुर्ग-बीमारों ने कराया वैक्सीनेशन


जिले में कोरोना टीकाकरण मंगलवार को जारी रहा। जिले में 170 स्थानों पर कोरोना टीकाकरण शुरू किया गया। इन केंद्रों पर केवल 45 प्लस वाले लोग, बुजुर्ग व बीमार लोगों को कोरोना टीकाकरण कराया गया। शहर से देहात तक कोरोना टीकाकरण किया गया, कोरोना टीका लगवाने में बुजुर्ग और बीमारों की संख्या 1461 रही है, लोगों ने बढ़ चढ़कर टीकाकरण कराया है।


दो स्पेशल टीकाकरण सेंशन लगाया


जिले में कोरोना टीकाकरण मंगलवार को किया गया इसमें 45 प्लस वाले लोगों में टीकाकरण 170 स्थानों पर किया गया। वहीं इसके अलावा 18 प्लस वाले लोगों में कोरोना वैक्सीनेशन सिर्फ 16 स्थानों पर कराया गया है। 18 प्लस वाला टीकाकरण जिले में वैसे तो सिर्फ 14 स्थानों पर ही किया जाना था। मगर इसी बीच अभिभावक स्पेशल अभियान आ गया। अभियान में जिले में दो जगह अभिभावक स्पेशल स्थान रहे, जिसमें शहर का एसके इंटर कालेज और डीपीएस स्कूल अभिभावक स्थल रहे हैं।


मीडिया कर्मियों में किया गया टीकाकरण


जिले में कोरोना टीकाकरण मंगलवार को किया गया। जिसमें मीडिया कर्मियों के भी शामिल कर लिया है। जिला सूचना कार्यालय में मीडिया कर्मियों को वैक्सीनेशन कराया गया। यहां सभी पत्रकारों ने एवं सूचना विभाग के अधिकारी, कर्मचारियों ने वैक्सीनेशन कराया है।


एसके कालेज में 12 वर्ष के कम बच्चों वालों को लगा टीका


बदायूं। शहर के एसके कालेज में कोरोना टीकाकरण को कैंप लगाया गया। यहां 18 प्लस वाले लोगों को कोरोना का टीका लगाया जाना था, जिसमें यहां अभि‌भावक स्पेशल केंद्र बनाया गया था। यहां केवल 12 वर्ष से कम उम्र के जो बच्चे हैं उनके परिवार के सदस्यों को वैक्सीन लगाई जानी थी, लेकिन यहां तमाम लोग पहुंचे। जिसकी वजह से दिन भर अव्यवस्था रही और अफसर व टीम परेशान रही है। जिसके बाद सिर्फ 50 अभिभावकों को ही वैक्सीन लग पाई है।


राज्यमंत्री व डीएम ने किया उद्घाटन


बदायूं। शहर के आवास विकास रोड़ स्थिति डीपीएस स्कूल में कोरोना टीकाकरण किया गया। यहां केवल 18 प्लस वाले वहीं लोगों को टीकाकरण किया गया जिनके बच्चे 12 ‌‌वर्ष से कम उम्र के थे। इसलिये यहां अभिभावक स्पेशल सेंशन लगाया गया। जिसका उद्घाटन नगर विकास राज्यमंत्री महेश चंद्र गुप्ता ने डीएम दीपा रंजन और सीएमओ डॉ. यशपाल सिंह के साथ किया। चूंकि शहर से बिल्कुल बाहर है और लोगों ने वहां तक जाने दूरी समझी इसलिये टीकाकरण कम हुआ है और केवल 37 अभिभावकों को वैक्सीन लग पाई है।


बिना अपाडमेंट टूटी भीड़


जिला पुरुष अस्पताल में मंगलवार को युवाओं में कोरोना वैक्सीनेशन कराया गया। वैक्सीनेशन कराने के लिये सुबह से ही भीड़ टूट पड़ी और शाम तक रही। यहां टीकाकरण कराने के लिये तमाम लोग पहुंच रहे थे। इमसें ऐसे भी लोग शामिल रहे हैं जिन्होंने केवल पंजीकरण करा रखा था लेकिन अपाडमेंट नहीं कराया है। बिना अपाडमेंट के ही टीकाकरण को पहुंच गये और स्टाफ से उलझते रहे हैं। जिससे स्टाफ को काफी दिक्कत हुई है।


रोडवेज और डाकघर में कम हुआ वैक्सीनेशन


शहर में युवाओं को कोरोना का टीका लगाने के लिये कई जगह टीकाकरण कराया गया। जिसमें रोडवेज और डाकघर को भी शामिल कर लिया, रोडवेज और डाकघर में कुछ कर्मचारियों ने ही कोरोना टीकाकरण कराया। यहां दिन भर सन्नाटा पसरा रहा है, इसलिये रोडवेज और डाकघर पर टीकाकरण कम रहा है। आसपास, कालोनियों के कम संख्या में लोग पहुंचे हैं। जिसकी वजह से टीकाकरण कम रहा है।


48 न्यायिक कर्मियों ने छोड़ा टीका


जिले में मगंलवार को युवाओं में कोरोना टीकाकरण किया गया। जिसमें न्यायिक कर्मियों को विशेष कैंप लगाया गया। मगर न्यायिक कर्मियों ने बहुत कम संख्या में टीकाकरण कराया है। न्यायिक दो अधिकारियों ने सिर्फ वैक्सीन लगवाई है। जबकि न्यायिक विभाग में 50 का लक्ष्य दिया गया था, जिसमें 48 ने वैक्सीन को छोड़ दिया है। हालांकि टीम ने पूरे समय तक रहकर टीकाकरण को ड्यूटी की है।


जिले में 18 प्लस टीकाकरण की सफलता पूर्वक शुरुआत हो गई है। पहले दिन युवाओं ने उत्साह और उत्सव जैसे महौल में टीकाकरण कराया है, पहले दिन 1,250 के लक्ष्य में 981 लोगों ने वैक्सीनेशन करा लिया है। न्यायिक कर्मियो में सिर्फ दो को वैक्सीन लगी है, बाकी 44 प्लस लोगों को भी वैक्सीनेशन कराया है। टीकाकरण को अब रफ्तार के साथ करायेंगे।


डॉ. मोहम्मद असलम, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी