• nationbuzz3

क़ादरी दूल्हा अब्दुल क़दीर बदायुनी का 64वा सालाना उर्स शानों शौकत से मनाया गया


बदायूं खबर नेशन बज़। ईद पर हर साल चाँद की तारीख 3 शव्वाल को होने वाले पीर सालिम के वालिदे गिरामी साहिबे उर्स आशिके रसूल शेखुल मशायक हुज़ूर क़ादरी दूल्हा अब्दुल क़दीर क़ादरी बदायुनी अलैहे रहमा का 64वा उर्स मुबारक जुमरात को काज़ी ए जिला हज़रत अब्दुल गनी मोहम्मद अतीफ मियां क़ादरी की सरपरस्ती में मनाया गया दरगाह ए क़ादरी में महफ़िल के दौरान कई उलमा व नात ख्वान हज़रात ने शिरकत की और साहिबे उर्स की बारगाह में नज़राने अकीदत पेश की।


काज़ी ए जिला हज़रत अब्दुल गनी मोहम्मद अतीफ मियां क़ादरी ने कहा, कौम को दहेज से बचना चाहिए दहेज की मांग करना पूरी तरह से गैर इस्लामी और जुर्म है। दहेज लेने और देने जैसे बुरे काम से खुद को दूर रखना ज़रूरी है।


आखिर में दुपहर को कुल शरीफ की रस्म अदा होते हुए फातिहा ख्वानी हुई और देश प्रदेश की उन्नति के लिए काज़ी ए जिला हज़रत अब्दुल गनी मोहम्मद अतीफ मियां क़ादरी ने दुआ फ़रमाई उर्स में आये हुए अकीदतमंदों के लिए लंगर का भी एहतिमाम किया गया।


इस अवसर पर अब्दुल क़यूम क़ादरी, अज़्ज़ाम मियां क़ादरी और दीगर उलमा समेत बड़ी संख्या लोग मौजूद रहे।

Mohammad Zubair Qadri