• Nationbuzz News Editor

अपनी सरकार के तीन साल पूरे होने पर 19 मार्च से जिलों का दौरा करेंगे सीएम योगी


यूपी। लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार 18 मार्च को अपने 3 साल का कार्यकाल पूरा करने जा रही है. सरकार का ये प्रयास है कि 18 मार्च को 3 साल पूरे होने पर पार्टी और सरकार दोनो इसका फायदा आगामी चुनावी साल में उठा सकें. जिसको लेकर अधिकारियों ने कमर कस ली है. सबसे ज्यादा फोकस 3 साल का कार्यकाल पूरा होने पर जारी की जाने वाली उपलब्धियों की किताब पर है।


19 मार्च से जिलों का दौरा


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने तीन साल के कार्यकाल में अपनी छवि सख्त मुख्यमंत्री के तौर पर बनायी है. करप्शन पर जीरों टालरेंस की नीति अपनाते हुए अधिकारियों पर कार्यवाई हो या फिर जिलों का दौरा कर विकास की जमीनी नब्ज टटोलना. मुख्यमंत्री ने जिलों के दौरे का कई रिकार्ड बनाये हैं. बीजेपी सरकार के तीन साल पूरा होने पर भी सीएम योगी खुद विकास योजनाओं का हाल जानने 19 मार्च से जिलों के दौरे के लिए निकलने वाले हैं. विकास की योजनाओं का वे खुद हाल जानेंगे. योगी के दौरों को लेकर सरकार से संगठन तक तैयारियां की जा रही हैं. जहां एक तरफ जिले के अधिकारियों में योगी के दौरों के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाते नजर आ रहे हैं, वहीं इस बाबत जल्द विधायकों की बैठक भी बुलायी जाने की तैयारी हो रही है।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने 3 साल के कार्यकाल में अपने छवि सख्त मुख्यमंत्री के तौर पर बनाई है. जब करप्शन पर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए अधिकारियों पर कार्यवाही हो या फिर जिलों का दौरा कर विकास की जमीन नब्ज टटोलना. मुख्यमंत्री ने जिलों के दौरे का कई रिकार्ड बनाए हैं. योगी सरकार के 3 साल पूरा होने पर भी मुख्यमंत्री ने जवाबदेही तय करने का सिलसिला शुरू कर दिया है और इसी कड़ी में सरकार के मंत्रियों के साथ विधायकों को भी काम काज का रिपोर्ट कार्ड सौपने के निर्देश दिए गए हैं।


विधायकों के रिपोर्ट कार्ड सौपने पर मंत्री सिद्धार्थ नाथ ने कहा है कि मुख्यमंत्री ने सदन से लेकर व्यक्तिगत तौर पर भी कहा हैं कि मंत्रियों के साथ विधायकों को भी इस बार अपने कामकाज का ब्योरा देना होगा. जिसको लेकर विधायक अपने क्षेत्र में जाकर प्रचार प्रसार करेंगे कि विधायक निधि और विभागों की तरफ़ से क्या काम करवायें गये हैं. सरकार पारदर्शिता के साथ जनता के बीच रहना चाहती हैं इसलिए जनता को जनप्रतिनिधि के बारे में जानने का हक है।