• nationbuzz3

सर्दी का मौसम कोरोना कहर जारी फिर भी जिला अस्पताल में बदबूदार कंबल ओढ़ रहे मरीज़


यूपी बदायूं। आखिर सिस्टम पैसों के लालच में क्यों है अँधा गरीबों के खून के ही प्यासे क्यों। सर्दी का मौसम सिर्फ अफसरों को सता रहा है, अस्पताल में भर्ती मरीज और तीमारदारों पर सर्दी का कोई असर नहीं हैं क्योंकि अस्पताल प्रशासन ने वार्ड स्टाफ को जो कंबल दिये हैं वह बदबूदार दिये हैं। जिनको मरीज ओढ़ना भी पसंद नहीं कर रहे हैं, मरीज या तो ठिठुरने को मजबूर हैं या फिर घरों से कंबल व रजाई मंगाकर ओढ़ रहे हैं। मगर मरीजों को नये कंबल ओढ़ने के लिए नसीब नहीं हो रहे हैं।


जिला पुरुष अस्पताल में पिछले वर्ष के बदबूदार कंबल ओढ़ने को दिये जा रहे हैं। पिछले वर्ष कंबल इस्तेमाल होने के बाद स्टाफ ने गिनती गिनाकर कंबल स्टोर बाबू को दिये थे, स्टोर बाबू ने एक साल के लिए कंबल गोदाम में ऐसे ही डाल दिये थे। स्टोर में एक साल तक कंबल पड़े रहे और फिर निकालने के बाद ऐसे ही दे दिये गये हैं। पूरी बरसात की सीजन निकल गई है और सालभर वैसे ही जमीन पर पड़े रहे हैं। इसके बाद कंबल मरीजों को ओढ़ने को दिये जा रहे हैं। कोरोना जैसी महामारी के बाद भी अस्पताल स्टाप संक्रमण से नहीं सावधानी की जा रही है। संक्रमण के दौर में मरीजों को बदबूदार कंबल दिये जा रहे हैं। जिसका मरीज इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं, कंबल की बदबू मरीजों को सहन नहीं हो रही है और मरीज घरों से रजाई कंबल मंगाकर इस्तेमाल कर रहा है। सीएमएस से शिकायत तो की गई थी लेकिन सीएमएस ने कोई विचार नहीं किया है।


कंबल स्टोर में दबाये बैठा बाबू


जिला अस्पताल में एक बाबू की मनमानी के चलते मरीजों को बदबूदार कंबल ओढ़ने पढ़ रहे हैं, बाबू के पास स्टोर में नये कंबल भी रखे हैं मगर वह कंबल निकालकर मरीजों को नहीं देना चाह रहा है। जिसकी वजह से मरीज परेशान हैं इसके बाद भी बाबू की मनमानी पर सीएमएस की आंखे नहीं खुल रही हैं।


ठंड के चलते मरीजों को कंबल दे दये गये हैं, तीमारदारों के रैनबसेरा की व्यवस्थायें हो रही हैं। ठंड में मरीज व तीमारदारों को दिक्कत नहीं होने देंगे। कंबल पुराने जो हैं उनको धुलबा लिया है, जररूत पढ़ने पर नये खरीद लिये जायेंगे।


डॉ. विजय बहादुर राम, सीएमएस जिला पुरुष अस्पताल


  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube