• nationbuzz3

ग्रामीण का कंकाल बरामद जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे तब होगी सख्त कार्रवाई


यूपी बदायूं। जिले में वजीरगंज गांव उदयपुर के जंगल में ग्रामीण की हत्या कर लाश फेंक दी गई। स्वजनों ने उसके लापता होने की गुमशुदगी चौथे दिन दर्ज कराई। लेकिन, पुलिस ने उसकी तलाश के प्रयास नहीं किए। सरसों के खेत की कटाई में मानव कंकाल खेत में देख लोगों के होश उड़ गए। लापता ग्रामीण के स्वजनों ने कपड़ों के आधार पर उसकी शिनाख्त की। सिर गायब होने और कंकाल से दूर पड़े कपड़ों पर स्वजनों ने हत्या की बात कही है।


गांव उदयपुर निवासी इकरार उद्दीन दिल्ली में रहकर मजदूरी करता था। लॉकडाउन में वह गांव आया तो यहां खेतीबाड़ी करने लगा। 26 दिसंबर को वह खेत पर जाने की बात कहते हुए घर से निकला और लापता हो गया। देर शाम तक जब वह घर नहीं लौटा तो स्वजन को चिता हुई। स्वजन ने उसकी तलाश शुरू की। मगर, उसका कोई पता नहीं चला। स्वजनों ने 29 दिसंबर को वजीरगंज थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई। फिर पुलिस ने स्वजन से रिश्तेदारियों में उसकी तलाश करने को कहा। रविवार को गांव उदयपुर के रामचंद्र पाली अपनी सरसों काट रहे थे। इसी दौरान खेत में काम करने वालों को मानव कंकाल दिखाई दिया। उसका सिर गायब था और कपड़े भी कंकाल से अलग पड़े थे। चूंकि गांव का ही व्यक्ति लापता था इसलिए उसके स्वजनों को बुलाया। स्वजनों ने कपड़ों के आधार पर उसकी शिनाख्त की।


मानव कंकाल को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मामले की जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे। उसके आधार पर ही मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।


अमित कुमार, एसओ वजीरगंज

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube
© Copyright ® All rights reserved Nation Buzz 2017 - 2020